478 साल पुराना है गोवा का द अवर लेडी ऑफ इम्मेक्यूलेट कन्सेप्शन चर्च

जीवन मंत्र डेस्क. गोवा की राजधानी पणजी में स्थित द अवर लेडी ऑफ इम्मेक्यूलेट कन्सेप्शन चर्च भारत में ही नहीं दुनियाभर में अपनी प्राचीनता और धार्मिक महत्व के कारण पहचान रखता है।इस भव्य चर्च को मूल रूप से वर्ष 1541 में एक चैपल (प्रार्थनालय) के रूप में बनाया गया था। इसके बाद सन् 1600 से 1609 के दौरान इस छोटे से प्रार्थना स्थल ने एक विशाल और खूबसूरत चर्च का आकार ले लिया।

  • मदर मेरी को समर्पित चर्च का प्रार्थना स्थान

478 साल पुराने चर्च के मुख्य उपासना वाले स्थान को मदर मेरी को समर्पित किया गया है, जिनके सामने ही प्रार्थना के लिए उपासक खड़े होते हैं। मुख्य आल्टर के अलावा दो अन्य गोल्ड प्लेटेड आल्टर भी हैं जो मुख्य आल्टर के आजू-बाजू हैं। बाएं तरफ जीजस क्रूसिफिक्सिअन और दाएं तरफ के भाग को लेडी ऑफ रोजरी को समर्पित किया गया है। यहां सेंट पीटर और सेंट पॉल के संगमरमर के स्टैच्यू भी चर्च की शोभा को बढ़ाते हैं। चर्च का इंटीरियर बेहद कलरफुल है।

  • गोवा का दूसरा सबसे बड़ा घंटाघर

इस चर्च का आगे वाला सफेद हिस्सा पुर्तगाली-बरोक और गोवन वास्तुकला की शैलियों को प्रदर्शित करता है। इसमें दो मीनारें और एक लम्बा घंटाघर है। इसे दूर से भी देखा जा सकता है इसलिए इसे पणजी का मुकुट भी कहा जाता है। इसमें एक प्राचीन घंटा लगा है, जो चर्च ऑफ ऑवर लेडी ऑफ ग्रेस के ऑगस्टिनियन खंडहर से प्राप्त हुआ था। यह गोवा में अपनी तरह का दूसरा सबसे बड़ा घंटाघर माना जाता है औरअभी भी सी कैथेड्रल' में स्थित गोल्डन बेल नाम से ये घंटा पहले पाएदान पर है।

  • पुर्तगाली विशिष्ट शैली की झलक

क्रिसमस वीक के दौरान चर्च की रौनक और यहां आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या ज्यादा बढ़ जाती है। प्रवासी पुर्तगाली विशिष्ट शैली की स्पष्ट झलक इस चर्च में देखी जा सकती है। गौरतलब है कि यहां सामान्य दिनों में भी हर दिन अंग्रेजी, कोंकणी और पुर्तगाली भाषा में प्रार्थना सभा का आयोजन होता है और बड़ी संख्या में श्रृद्धालुओं को यहां प्रार्थना सभाओं में देखा जा सकता है। इस चर्च में लगी प्राचीन बेल भी यहां आने वाले लोगों के आकर्षण का प्रमुख केंद्र है। इस घंटी को अपने आकार के लिहाज से गोवा की दूसरी बड़ी घंटी माना जाता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
The Our Lady of Immaculate Conception Church of Goa is 478 years old


Comments