नवरात्र में महिलाएं माता को चढ़ा दे ये चीज, होने लगेगी बरकत

मान्यता है कि चैत्र नवरात्र के पूरे नौ दिन घर की महिलाओं द्वारा देवी माँ को अपने घर में या किसी प्राचीन मंदिर में ये चीज चढ़ाने से घर परिवार की समस्याएं दूर होने के साथ घर में बरकत होने लगती है। इस साल 2020 में चैत्र नवरात्रि का महापर्व 25 मार्च से शुरू हो रहा है, जो 2 अप्रैल तक रहेगा। जानें किस चीज से प्रसन्न हो जाती है माँ दुर्गा।

चैत्र नवरात्र 2020 : कोरोना महामारी से होगी रक्षा, अपने घर में ही ऐसे करें माँ दुर्गा की पूजा और व्रत

घर की महिलाएं संभव हो तो नौ दिनों का उपवास चैत्र नवरात्रि में जरूर रखें। व्रत उपवास में केवल सात्विक भोजन का ही सेवन करें। कहा जाता है कि नवरात्रि के दिनों में उपवास के समय जौ, जल और फल का ही सेवन करना चाहिए। दिन में कम से कम 2 घन्टे मौन रहना चाहिए। श्री दुर्गा सप्तसती की दोनों समय श्रद्धा पूर्वक पाठ करना चाहिए। 9 दिनों तक हर रोज सूर्योदय के समय, दोपहर के समय एवं सूर्यास्त के समय 108-108 बार इस मंत्र- “ॐ आदित्याय नमः” का जप करें। माता के इस मंत्र के जप से मां शैलपुत्री की उपासना स्वतः ही हो जाती है।

चैत्र नवरात्र : माँ दुर्गा की कामना पूर्ति चमत्कारी स्तुति

नौ दिनों तक महिलाएं माँ दुर्गा को अर्पित करें ये चीज

माँ सिद्धिदात्री की चार भुजा हैं जो शेर की सवारी करती है, देवी माँ कमल के फूल पर भी विराजमान होकर दाहिनी तरफ के नीचे वाले हाथ में कमल का फूल ही धारण करती है। अविवाहित कन्याएं हो, विवाहित महिलाएं, बुजुर्ग या विधवा महिलाएं हो सभी मातृ रूप होती है। इसलिए नवरात्रि के नौ दिनों तक सुबह के समय हर रोज शुद्ध जल जिसमें लाल पुष्प एवं लाल कुमकुम डला हो माता को चढ़ायें, अंतिम दिन माता को सुहाग की सामग्रियां जिसमें हरी चुड़ियां शामिल, हो भेट करें। ऐसा करने से माता की कृपा से घर परिवार की सभी बाधाएं, समस्याएं दूर होने के साथ घर में बरकरत होने लगगी।

चैत्र नवरात्रि : मनचाही कामना पूर्ति के लिए माँ दुर्गा को लगाएं केवल यही भोग

चैत्र नवरात्रि में इन बातों का रखें ध्यान

- चैत्र नवरात्रि के नौ दिनों तक माता की पूजा में तुलसी, आंवला, दूर्वा, मदार और आक के फूल नहीं चढ़ाने चाहिए।

- माता को सबसे अधिक पसंद लाल रंग के फूल व रंगों का प्रयोग आता है।

- चैत्र नवरात्रि में लाल फूल हर दिन माँ दुर्गा को अर्पित करना चाहिए।

- चैत्र नवरात्रि के दिनों में घर में माँ दुर्गा की दो या तीन मूर्तियां या फोटों नहीं रखना चाहिए।

- माँ दुर्गा की पूजा हमेशा धुले हुए वस्त्र पहनकर करनी चाहिए।

- चैत्र नवरात्रि में महिलाएं पूजा के समय अपने बाल बंधे ही रखना चाहिए।

**********************



source https://www.patrika.com/festivals/navratri-puja-durga-puja-for-women-in-hindi-5925590/

Comments