गुरुवार और नवमी के योग में करें दुर्गाजी और विष्णुजी की पूजा, कन्या पूजन का संकल्प लें

जीवन मंत्र डेस्क. गुरुवार, 2 अप्रैल को चैत्र मास की नवरात्रि का अंतिम दिन नवमी तिथि है। इस दिन देवी दुर्गा की विशेष पूजा की जाती है। जिन लोगों ने नवरात्रि के नौ दिनों तक देवी मां की पूजा की, व्रत किया है, वे अंतिम दिन कन्याओं की पूजा करते हैं, लेकिन इस साल कोरोनावायरस की वजह से पूरे देश में लॉकडाउन है। ऐसी स्थिति में दुर्गा मां पूजा करें और बाद में कन्या पूजा करने का संकल्प लें। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार दुर्गा मां के नौ स्वरूपों की पूजा करने से घर में सुख-शांति बनी रहती है।

गुरुवार और नवमी का योग

गुरुवार और नवमी के योग में दुर्गाजी के साथ ही भगवान विष्णु की भी पूजा करें। इस दिन राम नवमी भी है। राम दरबार यानी श्रीराम, लक्ष्मण, माता सीता और हनुमानजी की भी विशेष पूजा इस दिन करें। विष्णुजी को पीले वस्त्र अर्पित करें। श्रीराम को फूल चढ़ाएं। दीपक जलाकर श्रीरामचरित मानस का पाठ करें। इस दिन हनुमान चालीसा या सुंदरकांड का पाठ भी कर सकते हैं।

गौ माता को रोटी दें

नवमी तिथि पर घर में देवी पूजा करें। घर के आसपास अगर गौ माता दिखाई दे तो गाय को रोटी खिलाएं।

जरूरतमंद को धन और अनाज का दान करें

नवमी तिथि पर दान-पुण्य करने का विशेष महत्व है। अभी कोरोनावायरस की वजह से काफी अधिक लोगों को भोजन नहीं मिल पा रहा है। ऐसे में नवरात्रि के अंतिम जरूरतमंद लोगों को भोजन कराएं। दान दें।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
chaitra navratri, how to worship to goddess durga in lock down due to coronavirus, ram navami on 2 april, durga puja, chaitra navratri navami


Comments