मई में मनाई जाएगी बुद्ध और शनि जयंती, माह में आएंगी दो एकादशियां

2020 के पांचवें माह मई में कई खास तिथियां आने वाली हैं। इस माह में भगवान बुद्ध और सूर्यपुत्र शनिदेव की जयंती मनाई जाएगी। मई में दो एकादशियां आएंगी। हिन्दी पंचांग के अनुसार जानिए मई 2020 में कब कौन सी खास तिथि आएगी और इन तिथियों पर कौन-कौन से शुभ काम किए जा सकते हैं...

शनिवार, 2 मई को जानकी जयंती है। इस दिन माता सीता के लिए व्रत-पूजा करनी चाहिए।

रविवार, 3 मई को मोहिनी एकादशी है। इस तिथि पर भगवान विष्णु और उनके अवतारों की पूजा करें। व्रत करें।

बुधवार, 6 मई को नृसिंह जयंती है। इस दिन भगवान नृसिंह का प्राकट्योत्सव मनाया जाता है।

गुरुवार, 7 मई को भगवान बुद्ध की जयंती और वैशाख पूर्णिमा है। पूर्णिमा पर घर में भगवान सत्यनारायण की कथा का पाठ करें।

रविवार, 10 मई को गणेश चतुर्थी व्रत है। इस दिन गणेशजी के लिए व्रत करें और ऊँ गं गणपतयै नम: मंत्र का जाप करें।

गुरुवार, 14 मई को वृष संक्रांति मनाई जाएगी। इस दिन सूर्य देव को अर्घ्य अर्पित करके दिन की शुरुआत करें।

सोमवार, 18 मई को अचला एकादशी है। इसे अपरा एकादशी कहा जाता है। इस दिन भगवान विष्णु के लिए व्रत करें। विष्णुजी के साथ ही महालक्ष्मी की पूजा करें।

शुक्रवार, 22 मई को वट अमावस है। इस दिन शनिदेव की जयंती भी मनाई जाएगी। शनि के लिए तेल और काले तिल का दान करें। सोमवार, 25 मई से नवतपा शुरू होगा। इस दिन रंभा तीज भी है।

मंगलवार, 26 मई को अंगारक विनायक चतुर्थी है। मंगलवार की चतुर्थी बहुत खास होती है। इसे अंगारक चतुर्थी कहा जाता है। इस दिन भगवान गणेश के लिए व्रत-उपवास करें और गणेशजी को दूर्वा चढ़ाकर पूजा करें।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Buddha purnima 2020 and Shani Jayanti 2020, Shani Jayanti kab hai, buddha purnima dates, Buddha Jayanti kab hai


Comments