Lunar Eclipse 2020: इस बार खास है 5 जून को लगने वाला चंद्र ग्रहण, जानिए क्यों?

नई दिल्ली।
Lunar Eclipse 2020 on 5 June: 5 जून को साल का दूसरा चंद्र ( Chandra Grahan 2020 ) ग्रहण लगने जा रहा है। लेकिन, इस बार का चंद्र ग्रहण सामान्य से अलग होगा। इस बार आप चंद्र ग्रहण ( Chandra Grahan on 5 June ) देख भी सकेंगे और इस दौरान खा-पी भी सकेंगे। हिंदू पंचांग के अनुसार 5 जून को ज्येष्ठ मास की पूर्णिमा तिथि पर चंद्र ग्रहण लगेगा। यह चंद्र ग्रहण उपछाया ग्रहण ( Shadow Lunar Eclipse ) होगा। ज्योतिषियों के मुताबिक, ग्रहण मध्य रात्रि 11 बजकर 16 मिनट से रात 2 बजकर 34 मिनट तक ( Lunar Eclipse 2020 Time ) रहेगा। इसे पूरे भारत में देखा जा सकता है। इस दौरान चंद्रमा वृश्चिक राशि में होंगे।

चंद्रग्रहण का काउंटडाउन शुरु: तीन दिन बाद 5 जून को ये ग्रहण कोरोना संक्रमण पर लगाएगा रोक या फैलाएगा, जानिये यहां

उपछाया और सामान्य चंद्र ग्रहण में अंतर
इसे शास्त्रों के अनुसार 5 जून को लगने वाला चंद्र ग्रहण सामान्य चंद्र ग्रहण से अलग होगा। इसे उपछाया ग्रहण कहते है। इसमें कोई सूतक नहीं माना जाता और पूजा पाठ और खाने पीने पर कोई पाबंदी नहीं होती है। इस दौरान दान करने जैसा भी कोई नियम नहीं है।

जून में लगेंगे दो चंद्र ग्रहण
बता दें कि जून माह में दो ग्रहण लगने जा रहे हैं। पहला ग्रहण 5 जून को लगेगा और दूसरा 21 जून को। 21 जून को सूर्य ग्रहण लगेगा। 5 जून को लगने वाले ग्रहण को भारत के समेत यूरोप, अफ्रीका, एशिया और ऑस्ट्रेलिया में देख सकेंगे।

कहते है चंद्र मालिंय
ज्योतिषियों के मुताबिक, उपछाया ग्रहण में सूतक काल मान्य नहीं होता। इस प्रक्रिया में चंद्र ग्रहण जब लगता है तो उसके पहले चंद्रमा पृथ्वी की उपछाया में प्रवेश करता है। इसे चंद्र मालिंय और Penumbra कहते हैं। उपछाया में पूर्ण चंद्र ग्रहण नहीं पड़ता इसमें चंद्रमा सिर्फ धुंधला सा दिखाई पड़ता है।



source https://www.patrika.com/religion-and-spirituality/lunar-eclipse-2020-on-5th-june-chandra-grahan-2020-time-update-6156598/

Comments