ये पांच काम, कभी नहीं होने देंगे धन-वैभव में कमी

सनातन धर्म में शुक्र ग्रह को दैत्य गुरु शुक्राचार से जुड़ा माना जाता है। वहीं ज्योतिष में शुक्र को भाग्य का कारक माना गया है। ऐसे में शुक्र ग्रह की शांति के लिए शुक्रवार के उपाय करते हैं। धन-समृद्धि जीवन में लाने के लिए शुक्रवार के उपाय करते हैं।

ये उपाय बहुत लाभदायक सभी प्रकार के भौतिक सुखों के लिए किए जाते हैं। इसके अलावा सौंदर्य, ऐश्वर्य, वैभव, कला, संगीत और काम वासना का कारक भी ज्योतिष में शुक्र ग्रह ही माना गया है।

पंडित सुनील शर्मा के अनुसार शुक्र ग्रह को वृषभ और तुला का स्वामित्व प्राप्त है। यह ग्रह मीन राशि में उच्च स्थित में होता है, जबकि कन्या राशि में यह नीच अवस्था में होता है। शुक्र ग्रह जिन लोगों की कुंडली में प्रबल होता है तो शुक्र उनका व्यक्तित्व आकर्षक बनाता है।

धन और वैभव से संपन्न शुक्र के जातक प्रबल होते हैं। वैभव और ऐश्वर्यशाली उनका जीवन होता है। ऐसे में आज हम आपको बताते हैं शुक्र ग्रह का आशीर्वाद किन उपायों से मिलता है।

धन की देवी मां लक्ष्मी की करें आराधना...
मान्यता के अनुसार, माता लक्ष्मी की पूजा शुक्रवार को करनी चाहिए। क्योंकि सप्ताह के दिनों में शुक्रवार की कारक देवी मां लक्ष्मी ही मानी जाती हैं,जो धन-वैभव की कारक भी हैं। शुक्रवार के आपके जीवन में कभी भी धन की कमी नहीं होगी।

दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान करने के बाद मां का ध्यान रखें। माना जाता है कि ऐसा करने से आपकी समस्याएं दूर होंगी और साथ में कभी भी धन की कमी नहीं होगी।

ऐसे करें शुक्रवार का उपवास
हिंदू धर्म में व्रत लाभकारी माने गए हैं। ऐसे में आप भी इस दिन व्रत,संभव हो सके तो जरूर रखें। माना जाता है कि माता संतोषी की भी कृपा प्राप्त शुक्रवार के दिन व्रत करने से होती है।

माता लक्ष्मी के इस मंत्र का करें जाप
हिंदू धर्म के मुताबिक, कई लाभ मंत्र जाप करने से आते हैं। माता लक्ष्मी भी प्रसन्न इस मंत्र के जाप करने से होती हैं।
मंत्र: ॐ श्रीं श्रीये नम:।।

घर में शांति का वातावरण बनाएं
माना जाता है कि जिन घरों में लड़ाई-झगड़े या अशांति का माहौल रहता है, उन घरों में मां लक्ष्मी प्रवेश नहीं करती। इसलिए लड़ाई-झगड़ों से दूर रहने के लिए कहा जाता है। वहीं ये भी मान्यता है कि जिन घरों में प्रेम होता है वहां देवी मां नलक्ष्मी का वास होता है।

न करें अन्न की बर्बादी
हिंदू धर्म के मुताबिक अन्न का भी एक रुप मां लक्ष्मी का होता है। इस बात का जरूर ध्यान रखें अन्न की बर्बादी न हो सके। कई लोग खाने को गुस्से, आवेश में आकर फेंक देते हैं। अन्न का ऐसा अपमान नहीं करना चाहिए। मान्यता के अनुसार जो ऐसा करते हैं उनसे माता लक्ष्मी रुष्ट जाती हैं। अत: इस बात का विशेष ध्यान रहे कभी भी भूल से भी अन्न का अपमान न हो।



source https://www.patrika.com/religion-news/mata-lakshmi-friday-shukrawar-ke-5-upay-6306171/

Comments