गुरुवार व्रत: केवल भगवान विष्णु ही नहीं बल्कि मां लक्ष्मी भी होती हैं प्रसन्न

सप्ताह में बृहस्पतिवार का दिन भगवान् हरि विष्णु जी को समर्पित होता है। बृहस्पति देव चूकिं देवताओं के गुरु हैं, अत: देवगुरु होने के चलते इस दिन को गुरुवार भी कहा जाता है। इस दिन श्री हरि की पूजा के अलावा इस दिन का व्रत कई मायनों में महत्वपूर्ण माना जाता है।

पंडित सुनील शर्मा के अनुसार माना जाता है कि जो भी व्यक्ति गुरुवार का व्रत करता है, उसे इससे जीवन में आ रही सभी परेशानियों को दूर करने में मदद मिलती है। साथ ही जीवन में खुशहाली को बरकरार रखने में मदद मिलती है।

लेकिन,क्या आप जानते हैं कि गुरुवार का व्रत रखने से केवल विष्णु जी ही प्रसन्न नहीं होते हैं, बल्कि मां लक्ष्मी भी प्रसन्न होती हैं। यह व्रत कोई भी कर सकता है चाहे वो महिला हो या पुरुष या फिर कुंवारी लडकियां या कुंवारे लड़के हो। और माना जाता है कि जो भी व्यक्ति पूरे श्रद्धाभाव, विश्वास व् आस्था के साथ गुरुवार का व्रत व उद्यापन करता है। उसके मन की सभी इच्छाओं को पूर्ण होने में मदद मिलती है।

गुरुवार : व्रत रखने से खास फायदे...
गुरुवार यानि बृहस्पतिवार को किए गए व्रत में केवल भगवान् विष्णु व लक्ष्मी की ही अराधना नहीं करनी चाहिए। बल्कि इस दिन केले के पेड़ की पूजा का भी महत्व होता है। क्योंकि ऐसा माना जाता है की केले के पेड़ में विष्णु जी का वास होता है। ऐसे में गुरुवार का व्रत रखते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए।

- गुरुवार व्रत रखने से जातक के घर में अन्न धन की कमी नहीं रहती है।
- घर के धन में हमेशा बरकत बनी रहती है।
- अन्न के भण्डार भरे रहते हैं।
- जिससे घर में खुशियों को भरे रहने में मदद मिलती है।
- अन्न धन के साथ विद्या की प्राप्ति के लिए भी इस व्रत को करना शुभ माना जाता है।

गुरु ग्रह का ऐसे समझें स्वभाव (मान्यता के अनुसार)...
: यदि किसी जातक की कुंडली में गुरु नीच घर में विराजमान हो, गुरु निर्बल हो, गुरु की दशा कमजोर होती है।
: तो इसके कारण जातक को जीवन में सफलता नहीं मिल पाती है। बनते काम बिगड़ने लग जाते हैं।

: वहीं माना जाता है कि यदि ऐसे में आप गुरुवार का व्रत करते हैं, तो ऐसा करने से कुंडली में गुरु को मजबूत करने में मदद मिलती है।
: कुंडली में गुरु को दशा को सही करने में मदद मिलती है।
: जिससे कुंडली में गुरु ग्रह के कारण आ रही सभी परेशानियों को दूर करने में मदद मिलती है।

नौकरी में सफलता...
यदि आपको काम में तरक्की न मिल रही हो,या कोई नौकरी न हो।
- तो इस समस्या से बचाव के लिए भी गुरुवार का व्रत रखना बहुत फायदेमंद माना जाता है।
माना जाता है कि गुरुवार का व्रत रखने से आपको नौकरी में तरक्की मिलने के साथ नौकरी मिलने के मार्ग में आ रही रुकावटों को दूर करने में भी मदद मिलती है।

घर में सुख समृद्धि...
यदि कोई महिला या पुरुष घर में सुख शांति व् समृद्धि के लिए गुरुवार का व्रत करता है।
: तो माना जाता है कि इस व्रत को करने से जातक के घर में सुख समृद्धि को बने रहने में मदद मिलती है। साथ ही घर में होने वाले कलेश, लड़ाई झगडे आदि से निजात पाने में मदद मिलती है।
: घर के लोगों के बीच प्यार व् अपनेपन को बने रहने में मदद मिलती है।
जिससे घर में खुशहाली को बने रहने में फायदा होता है।

गुरुवार व्रत : दूर होती है शादी में रूकावट...
कई बार शादी के रिश्ते नहीं मिलते हैं, या शादी की बनती बात बिगड़ जाती है।
ऐसे में यदि वो लड़का या लड़की जिसकी शादी में दिक्कत आ रही है गुरुवार के व्रत करता है।
: तो माना जाता है कि ऐसा करने से उसे इस समस्या से निजात मिलने में मदद मिलती है।
: शादी में आ रही रुकावटों को दूर करने के साथ शादी जल्द होने में फायदा हो सकता है।



source https://www.patrika.com/dharma-karma/benifits-of-thursday-vrat-guruvar-vrat-ke-fayde-and-pooja-6238145/

Comments