धन और समृद्धि की दिशा मानी जाती है उत्तर, यहां टॉयलेट और बाथरूम बनवाने से बचना चाहिए

उत्तर दिशा यक्ष कुबेर की दिशा है। उत्तर में अगर कोई भी वास्तु दोष होगा तो करिअर, पैसे और बिजनेस में परेशानियां आ सकती हैं। उत्तर दिशा में भारी चीजें होना या ज्यादा निर्माण होने से इस दिशा में दोष आ जाता है। इसके अलावा उत्तर का दक्षिण दिशा से ऊंचा होना भी समस्या का कारण बन सकता है। उत्तर में अगर कोई कट होगा तो नौकरी और बिजनेस में नए मौके नहीं मिल पाते हैं। इस वास्तु दोष के कारण तरक्की में भी रुकावटें आती हैं। उत्तरमुखी भवन में निवास करने वाले लोग न केवल सेहत के लिहाज से सुखी रहते हैं बल्कि आर्थिक स्थिति से मजबूत भी होते हैं।

वास्तु शास्त्र: धन और समृद्धि की दिशा मानी जाती है उत्तर
उत्तर दिशा के अधिपति हैं रावण के भाई कुबेर। कुबेर को धन का देवता भी कहा जाता है। बुध ग्रह उत्तर दिशा के स्वामी हैं। उत्तर दिशा को मातृ स्थान भी कहा गया है। उत्तर दिशा धन की दिशा मानी जाती है इसीलिए कुबेर देव को इस दिशा का देवता माना जाता है। इस दिशा को घर में हमेशा कच्ची जमीन छुडवानी चाहिये और इसे खाली भी छोड़ना चाहिये। इससे घर में धन की देवी लक्ष्मी का आगमन होता है। अगर आप घर में तिजोरी का इस्तेमाल करते हैं तो आप उसकी स्थापना भी इसी दिशा में करें। उत्तर और ईशान दिशा में घर का मुख्‍य द्वार हो तो अति उत्तम होता है। इस दिशा में शौचालय, रसोईघर बनवाने, कूड़ा-करकट डालने और इस दिशा को गंदा रखने से धन-संपत्ति का नाश होकर दुर्भाग्य का निर्माण होता है।

उत्तर दिशा में टॉयलेट और बाथरूम बनवाने से बचना चाहिए

  1. जब भी लगे कि अवसर नहीं मिल रहे या मेहनत के अनुसार फायदा नहीं हो रहा तो घर की उत्तर दिशा पर जरूर ध्यान देना चाहिए।
  2. इस दिशा का तत्व जल है। इस दिशा को संतुलित करके यहां पर पानी रखना जैसे की अंडर ग्राउंड वाटर टैंक बहुत शुभ हो जाता है।
  3. यहां पर कुबेर की ब्रास धातु की बनी हुई प्रतिमा लगा सकते हैं। याद रखें वह सिर्फ एक शोपीस की तरह उसका पूजन नहीं करें।
  4. भवन के निर्माण के समय उत्तर में भारी पिलर लगाने से बचें, यहां नीले रंग की कांच की बोतल में एक मनी प्लांट लगा सकते हैं।
  5. घर के सदस्यों में प्यार बना रहे इसलिए उत्तर दिशा में कोई भी दीवार टूटी हुई या किसी भी दीवार में दरार नहीं होनी चाहिए। उत्तर दिशा का कोई कोना कटा हुआ भी नहीं होना चाहिए।
  6. घर में सुख शांति के लिए उत्तर दिशा में किचन नहीं बनवाना चाहिए। इसके साथ ही इस दिशा में टॉयलेट और बाथरूम भी बनवाने से बचना चाहिए।


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Vastu Shastra: North Direction as per Vastu; According to Vastu Kuber is Lord Of North, it is Holy Direction For Financially Improvement


Comments