पितरों के लिए श्राद्ध, तर्पण और पिंडदान के साथ ही गुड़, घी, अनाज, काले तिल, भूमि, नमक, वस्त्र आदि चीजें दान करें

2 सिंतबर से पितृ पक्ष शुरू हो रहा है। पितरों को याद करने का ये पक्ष 17 सितंबर तक चलेगा। इन दिनों में पितरों के लिए श्राद्ध, तर्पण और पिंडदान आदि शुभ कर्म किए जाते हैं। जो लोग पितरों के लिए पुण्य कर्म करते हैं, उनके घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

इन चीजों का कर सकते हैं दान

उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार पितृ पक्ष में श्राद्ध, तर्पण और पिंडदान के साथ ही जरूरतमंद लोगों को गुड़, घी, अनाज, गाय, काले तिल, भूमि, नमक, वस्त्र आदि चीजों का दान करना चाहिए। इन चीजों के दान का अलग-अलग फल बताया गया है। गुड़ के दान से घर का क्लेश दूर होता है, गाय के दान से सुख-समृद्धि बढ़ती है। घी का दान करने से शक्ति बढ़ती है। अनाज का दान करने पर घर में धन-धान्य की कमी नहीं आती है। काले तिल का दान करने स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं।

पितृ पक्ष में करें काले तिल का दान

पितृ पक्ष में किसी पवित्र नदी में काले तिल बहाकर तर्पण करने की परंपरा है। लेकिन, इस बार कोरोना की वजह से किसी नदी में तर्पण नहीं कर पा रहे हैं तो किसी मंदिर में या किसी जरूरतमंद लोगों को काले तिल का दान करने से भी पुण्य फल मिलते हैं।

पितृ पक्ष में रोज गाय को हरी घास खिलानी चाहिए। रोज सुबह जल्दी उठें और सूर्यदेव को अर्घ्य अर्पित करें। भागवत गीता का पाठ करें और उसमें बताई गई नीतियों को जीवन में उतारें। घर में शांति बनाए रखें। क्लेश न करें।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Pitru Paksha 2020, Shraddha Paksha 2020, Pitar devta, significance of pitri paksha, pitri paksha 2020


Comments