कोरोना वायरस कैसे होगा खत्म? ग्रहों की दशाओं पर ज्योतिषीय आंकलन

इस वक्त पूरी दुनिया कोरोना का कहर झेल रही है। ऐसे में इस वायरस की चपेट में आने से विश्व में लाखों लोगों ने अपनी जान तक गवां दी है,इससे बचने के लिए जहां पूरे विश्व में इसकी वैक्सीन की खोज के कार्य चल रहे हैं। वहीं इस बीच कुछ ज्योतिष के जानकारों ने गणना कर कोरोना से निपटने की स्थिति के बारे में तक बता दिया है।

ज्योतिष के जानकारों के अनुसार सितम्बर 2020 के आखिर में हमें आज के दौर के हिसाब से अच्छी खासी राहत मिल सकती है, लेकिन कोरोना वातावरण में बना रहेगा। उनके अनुसार ज्योतिष की दृष्टि से COVID 19 ने 25 से 27 दिसम्बर 2019 के बीच जन्म लिया उस वक्त वैश्विक दृष्टि से तब 6 ग्रह धनु राशि में आते हैं। वहीं तब से अब तक लगातार ग्रह अपनी स्थिति में बदलाव ला रहे हैं।

पंडित एसके शर्मा के अनुसार ऐसे में ग्रहों का ये जोड़ जो मुख्यरूप से इस महामारी के कारक थे या जो इस संक्रमण को फैलाने में सहायक थे। उनकी स्थिति ग्रहों में हो रहे बदलाव के चलते सितंबर 2020 के अंत में कमजोर पड़ती दिख रही है। जिसके कारण कोरोना की पकड़ भी जल्द ढीली पड़नी शुरु होने वाली है, लेकिन यह भी समझ लें कि अभी लंबे समय तक कोरोना की लहर बने रहने की संभावना है, जो समय समय पर दुनिया को प्रभावित करती रहेगी। कुल मिलकार 2020 में तो कोरोना से पूरी तरह छूटकारा मिलता नहीं दिख रहा।

कोरोना चक्र: ऐसे समझें कब मिलने वाली है राहत ...

: 2020 के अक्टूबर महीने में वैक्सीन पर सकारात्मक विकास होगा।
: अप्रैल 2021 के बाद, यात्रा नियमों में ढील होगी, दुनिया आगे बढ़ने लगेगी, उपचार में सफल विकास होगा।
: 21 नवंबर 2021 तक, जीवन वापस सामान्य हो जाएगा, पूरी दुनिया एक खुशहाल चरण में चली जाएगी, वैक्सीन में भी पूर्ण सफलता मिलेगी, कोई प्रतिबंध नहीं, कोई डर नहीं, अर्थव्यवस्थाएं फिर से शुरू हो जाएंगी।

: 20 नवंबर 2020 से 4 अप्रैल 2021 के बीच दुनिया पर मंडराते खतरे - मंदी गहराएगी, वहीं इसके अलावा दो देशों के बीच युद्ध की स्थितियां पैदा होंगी, कुछ में विरोध प्रदर्शन, कुछ के लिए वैक्सीन फेल होने की संभावना, COVID 19 की दूसरी लहर या पहले से संक्रमित लोगों में जटिलताएं पैदा हो सकती हैं।

ज्योतिष उपाय: ऐसे करें अपनी सुरक्षा...
: रोज एक ग्लास दूध में थोड़ी हल्दी मिलाकर पीएं। ज्योतिषीय रूप से हल्दी का प्रतिनिधित्व बृहस्पति द्वारा किया जाता है, और ऐसा करने से ये ग्रह अधिक प्रभावित होंगे।
: प्रतिदिन 4 से 6 तुलसी के पत्ते पानी के साथ लें। ऐसा करने से ग्रह बुध मजबूत होता है। जो त्वचा, उच्च तापमान और तंत्रिका तंत्र से जुड़ा होता है?
: सुबह दातुन करने से पहले अपने 2 गिलास गर्म पानी पिएं। हमारे शरीर और पृथ्वी का 70% से अधिक हिस्सा पानी से बना है।पानी चंद्रमा द्वारा नियंत्रित किया जाता है। पानी से अपने दिन की शुरुआत करके हम अपने फेफड़ों को मजबूत कर रहे हैं, क्योंकि चंद्रमा फेफड़ों और श्वसन तंत्र को प्रभावित करता है।
: सुबह कुछ मिनट के लिए धूप का आनंद लेने का प्रयास करें। यह सूर्य ग्रह को मजबूत करता है, इसलिए एक मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली का निर्माण करता है।

मंत्र जो करेंगे आपकी मदद...
: ओम मंत्र बहुत फायदेमंद है खासकर अगर कोई इसके साथ ध्यान करता है।
: राम मंत्र ('श्री राम जय राम जय जय राम'), यह आपके जीवन से सभी प्रकार की नकारात्मकता को दूर करता है और सर्वांगीण शांति लाता है।
: महामृत्युंजय मंत्र रोजाना जप करने पर आपके चारों ओर एक मजबूत सुरक्षात्मक आभा का निर्माण करेगा।



source https://www.patrika.com/astrology-and-spirituality/relief-from-corona-virus-will-started-from-this-date-6367849/

Comments