केदारनाथ में निरीक्षण करने पहुंचे राज्यमंत्री धनसिंह रावत की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव, मंदिर में पूजा भी की और 100 से ज्यादा लोगों से मिले भी

उत्तराखंड के चारधामों में से एक केदारनाथ में मंगलवार को राज्यमंत्री धनसिंह रावत पहुंचे थे। इसी दिन शाम को इनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई। राज्यमंत्री की कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने से पूरे तीर्थ क्षेत्र में हड़कंप मच गया है। रावत ने यहां मंदिर में जाकर पूजा की थी और करीब 100 से ज्यादा लोगों से मिले थे। उन सभी लोगों को तत्काल होम आइसोलेट होने के लिए कहा गया है।

23 से उत्तराखंड का विधानसभा सत्र शुरू होना है। इसके लिए सभी विधायकों और मंत्रियों का कोविड-19 टेस्ट किया गया। लेकिन, रिपोर्ट आने के पहले ही धनसिंह रावत केदारनाथ में हो रहे विकास कार्यों का निरीक्षण करने पहुंच गए। यहां उन्होंने कई लोगों से मुलाकात भी की। इनमें मंदिर के पुजारी, समिति सदस्य, आसपास के व्यापारी आदि शामिल हैं। उनकी कोरोना रिपोर्ट के बारे में पता चलते ही तत्काल मंदिर को सैनेटाइज किया गया। हालांकि, दर्शन बंद नहीं किए गए हैं। पूरे इलाके को सैनेटाइज किया जा रहा है।

मंदिर क्षेत्र में चारधाम बोर्ड और मास्टर प्लान के विरोध में तीर्थ पुरोहित द्वारा किया जा रहा प्रदर्शन खत्म हो गया है।

पंडे-पुजारियों का 51 दिन से चल रहा धरना खत्म

केदारनाथ धाम के तीर्थ पुरोहित समिति के अध्यक्ष विनोद शुक्ला ने बताया कि प्रशासन ने हमारी बात मान ली है। पुनर्निर्माण कार्यों में मंदिर के आसपास की दुकानें, घर और धर्मशालाओं को तोड़ा नहीं जाएगा। इस संबंध में अपर जिलाधिकारी रामजी शरण शर्मा व पुलिस उप-अधिक्षक दीपक सिंह ने तीर्थ पुरोहितों से बात की थी।

केदारनाथ धाम में मास्टर प्लान के तहत विकसित किया जा रहा है। इन विकास कार्यों में मंदिर क्षेत्र के आसपास की दुकानें, घर और धर्मशालाएं को तोड़ने की बात कही जा रही थी। मंदिर के तीर्थ पुरोहित इस बात का विरोध कर रहे थे। इसके लिए वे धरने पर बैठे थे। सभी तीर्थ पुरोहितों और प्रशासन की मीटिंग के बाद करीब 51 दिन से चल रहा धरना प्रदर्शन खत्म हो गया है।

प्रशासन ने मंदिर क्षेत्र में धरना प्रदर्शन पर लगा दी थी रोक

केदारनाथ धाम आने वाले दर्शनार्थियों को धरने की वजह से परेशानी न हो, इसलिए देवस्थानम बोर्ड के सीईओ के आदेश पर केदारनाथ मंदिर क्षेत्र में करीब 200 मीटर और वैली ब्रिज के मंदिर मार्ग में आंदोलन पर रोक लगा दी गई थी।

इस आदेश का पालन कराने के लिए अपर जिलाधिकारी और पुलिस प्रशासन मंदिर पहुंचा था। प्रशासन और पुरोहितों की मीटिंग के बाद धरना खत्म हुआ।

केदारनाथ में सभी राज्य के दर्शनार्थियों के लिए भी चालू है दर्शन व्यवस्था

उत्तराखंड के साथ ही अन्य प्रदेशों के श्रद्धालुओं के लिए भी दर्शन व्यवस्था शुरू हो गई है। अनलॉक-4 में अब दर्शनार्थियों को उत्तराखंड आने की अनुमति मिल गई है। इसके लिए उत्तराखंड चारधाम बोर्ड की वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी है। बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम में दर्शन के लिए श्रद्धालुओं को कोरोना महामारी से संबंधित नियमों का पालन करना होगा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
kedarnaht dham news update, kedarnath mandir, kedarnath dham darshan, Corona report positive of Minister of State who arrived in Kedarnath,


Comments