भगवान सूर्य के है 12 नाम, हर नाम का एक खास अर्थ, इनका जाप माना जाता है आत्मविश्वास बढ़ाने वाला

रविवार दिन है भगवान सूर्य की उपासना का। सूर्य को ग्रहों का राजा और एक मात्र प्रत्यक्ष देवता माना गया है। ज्योतिष में सूर्य को आत्मा का प्रतीक माना गया है, इसलिए कमजोर आत्मविश्वास वालों को सूर्य की उपासना करने के लिए कहा जाता है। वेदों और ज्योतिष ग्रंथों में 12 आदित्य यानी बारह सूर्य माने हैं।

हम जिस सूर्य को देख पाते हैं उसके भी 12 नाम हैं। ये नाम उनकी अलग-अलग विशेषताओं के कारण हैं। सूर्य को ज्योतिष का प्रधान ग्रह होने के साथ-साथ गुरु का दर्जा भी मिला हुआ है। सूर्य भगवान हनुमान के गुरु हैं। मय नाम के राक्षस को भी भगवान सूर्य ने ज्योतिष का ज्ञान दिया था। उसी मय दानव ने मयमतम् नाम के एक महान ग्रंथ की रचना भी की थी, जो ज्ञान उसे सूर्य से मिला, उसे मय दानव ने इस पुस्तक में उतारा था।

भगवान सूर्य की आराधना के लिए उनके 12 नामों का जाप किया जाता है। ये 12 नाम कौन से हैं, और उनके क्या अर्थ हैं? यहां पढ़िए...



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
There are 12 names of Lord Surya, each name has a special meaning, their chanting is believed to give confidence.


Comments