साल 2020 के सबसे बड़े परिवर्तन से ठीक एक दिन पहले का ये परिवर्तन कई मायनों में रहेगा खास

बुद्धि के कारक व ग्रहों में राजकुमार का दर्जा प्राप्त बुध जल्द ही अपने स्थान में परिवर्तन करने जा रहे हैं। जिसके तहत यह 22 सितंबर दिन मंगलवार को कन्या राशि से निकलकर तुला राशि में गोचर करने वाले हैं। जबकि इसके ठीक अगले दिन साल का सबसे खास परिवर्तन होने वाला है, जिसके चलते राहु वृषभ में प्रवेश करेंगे। वहीं बुध के 22 सितंबर दिन को हो रहे परिवर्तन में कन्या व मिथुन राशि के स्वामी बुध कन्या में बुधादित्य योग का निर्माण कर रहे है।

बुध को बुद्धि के अलावा वाणी, व्यापार, धन, दौलत का भी कारक माना जाता है। बुध का तुला राशि में आने पर सभी राशियों पर प्रभाव देखने को मिलेगा। कुछ राशियों के जीवन में तरक्की देखने को मिलेगी तो कुछ के जीवन में नकारात्मक प्रभाव देखने को मिलेगा। आइए जानते हैं किस राशि के लिए बुध का गोचर कैसा रहेगा…

MUST READ : 23 सितंबर को राहु का परिवर्तन वृषभ में, दे रहा है जंग का संकेत

https://www.patrika.com/astrology-and-spirituality/good-and-bad-effects-of-rahu-parivartan-on-23rd-september-2020-6397695/

बुध के इस परिवर्तन का आपकी राशि पर असर...

1- मेष राशि
बुध आपकी राशि से सातवें भाव यानि विवाह भाव में गोचर करने वाला है। इस भाव में बुध की स्थिति आपके जीवन में चुनौतियां ला सकती है। पारिवारिक जीवन की बात की जाए तो घर के सदस्यों के साथ आपके मतभेद हो सकते हैं। गुस्से को कंट्रोल में रखें और रिश्तों की मजबूती पर ध्यान दें। किसी पुरानी बात को लेकर बहसबाजी से बचें। आर्थिक पक्ष मजबूत बना रहे इसके लिए मेहनत करते रहें। जो जातक नया कार्य शुरू करना चाहता है, उसके लिए समय लाभदायक है।

उपाय- बुधवार के दिन गाय को हरा चारा खिलाएं।

2- वृषभ राशि
बुध आपकी राशि से छठवें भाव यानि शत्रु व रोेग भाव में गोचर करने वाला है। इस दौरान छात्रों को शुभ फल की प्राप्ति होगी। ज्ञान के बल पर सहपाठियों के बीच अलग जगह बनाएंगे। अगर किसी प्रतियोगी परिक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो उसमें सफलता मिलेगी। कार्यक्षेत्र में शत्रुओं से बचकर रहें, अन्यथा वाद-विवाद की स्थिति बन सकती है। संतान की तरक्की से मन प्रसन्न होगा। सामाजिक स्तर पर आपका मान-सम्मान इस दौरान बढ़ेगा। दांपत्य जीवन में संतान के चलते खुशियां आ सकती हैं, आपकी संतान को इस दौरान तरक्की मिलने की पूरी संभावना है।

उपाय- बुधवार के दिन ग़रीबों को फल दान करें।


3- मिथुन राशि
बुध आपकी राशि से पांचवें भाव यानि पुत्र व बुद्धि भाव में गोचर करने वाला है। इस दौरान नए लोगों से जान-पहचान बढ़ेगी। परिवार में खुशी का माहौल रहेगा और छोटे सदस्यों के साथ समय व्यतीत करेंगे। गोचर काल आपको ज्यादातर चिंताओं से मुक्त करेगा। मनोरंजन के साधनों पर खर्चा हो सकता है। शेयर बाजार में निवेश करने की सोच रहे हैं तो गोचर काल तक रूक जाएं।

बुध की पंचम भाव में स्थिति दर्शाती है कि इस दौरान आपके परिवार का माहौल सुखद रहेगा। घर के छोटे सदस्यों के साथ इस समय आप काफी वक्त बिताएंगे और अपनी सारी चिंताओं को भूल जाएंगे। अपने कामों को संजीदगी के साथ करना आपको पसंद आएगा जिसके कारण जीवन में सकारात्मकता बनी रहेगी। सामाजिक स्तर की बात की जाए तो अपने करीबी मित्रों के साथ समय बिताने का आपको मौका मिल सकता है। वहीं इस राशि के जातक मनोरंजन के साधनों पर भी खर्च करने से इस दौरान नहीं कतराएंगे।

उपाय- दुर्गा माता की आराधना करें।

4- कर्क राशि
बुध आपकी राशि से चौथे भाव यानि माता व सुख भाव में गोचर करने वाला है। इस दौरान पारिवारिक जीवन में सुख समृद्धि के साथ शांति आएगी। माता का आशीर्वाद प्राप्त होगा और उनके साथ अच्छा समय व्यतीत भी होगा। अगर आप पढ़ने के लिए विदेश जाना चाहते हैं तो यह समय अनुकूल है। आमदनी में वृद्धि होगी और अटके हुए धन की प्राप्ति के भी योग बन रहे हैं। नौकरी पेशा लोगों की बात की जाए तो आमदनी में वृद्धि होने के इस समय पूरे आसार हैं, हालांकि बावजूद इसके भी आपको आर्थिक चिंताएं बनी रहेंगी।

उपाय- बुधवार के दिन हरी चूड़ियां दान करें।

5- सिंह राशि
बुध आपकी राशि से तीसरे भाव यानि पराक्रम भाव में गोचर करने वाला है। इस दौरान भाई-बहनों के सहयोग से बिजनेस बढ़ोतरी की समस्या से मुक्ति मिलेगी। साथ ही संबंधों में मधुरता आएगी। परिवार का पूरा सहयोग मिलेगा। गोचर काल में सामाजिक स्तर पर मित्रों और कारोबारियों से फायदा होगा। साथ ही आपके मार्गदर्शन से लोगों को उन्नति भी होगी। धन से संबंधित कार्य करने में सावधानी बरतें।

सामाजिक स्तर पर आपको अपने मित्रों या करीबियों से फायदा मिल सकता है। आपके आर्थिक पक्ष पर नजर डालें तो, पैसों से जुड़े लेन-देन को लेकर आपको विशेष रुप से सावधान रहना होगा।

उपाय- किन्नरों का आशीर्वाद लें।

6- कन्या राशि
बुध आपकी राशि से दूसरे भाव यानि धन भाव में गोचर करने वाला है। इस भाव में बुध की स्थिति से पारिवारिक जीवन अच्छा रहेगा। सामाजिक स्तर पर भी आपका प्रभाव पड़ेगा, अपनी वाणी के दम पर आप लोगों को प्रभावित करने में सफल होंगे। इस राशि के जो जातक कारोबार करते हैं उन्हें अतीत की योजनाओं से लाभ होने की पूरी संभावना है। आपकी मेहनत का अच्छा फल बुध के इस गोचर के दौरान आपको मिलेगा। इस दौरान अपना और परिवार के लोगों के स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखें। भाग्य पूरा साथ देगा, जिससे आपको हर क्षेत्र में प्रगति मिलेगी। गुरुजनों को आशीर्वाद से छात्रों के भविष्य की नींव मजबूत होगी। जो जातक कारोबार करना चाहते हैं, उनकी योजनाओं से लाभ होगा। सामाजिक स्तर पर भी आपका प्रभाव बढ़ेगा।

उपाय- भगवान विष्णु की पूजा करते हुए उन्हें कपूर अर्पित करें।

7- तुला राशि
बुध आपकी राशि के लग्न भाव यानि स्वयं का भाव अर्थात पहले स्थान पर गोचर करने वाले हैं। इस भाव में बुध के गोचर से इस राशि के कारोबारियों को दिक्कतों का सामना करना प़ड़ सकता है। यदि आप अपने कारोबार को फैलाने का विचार बना रहे थे तो किसी वजह से वह स्थगित हो सकता है। इस राशि के विद्यार्थी भी भविष्य को लेकर इस दौरान उलझन में देखे जा सकते हैं।इस दौरान कार्यक्षेत्र को लेकर जल्दबाजी में कोई फैसला न लें, अन्यथा मुसीबत आ सकती है। आपके व्यवहार में सकारात्मक बदलाव देखने को मिलेगा, जिससे नए लोगों मित्रता बढ़ेगी। समाज में आपके लिए लोगों का नजरिया बदलेगा। गोचर काल में पिता के मार्गदर्शन से बिजनस में लाभ होगा।

उपाय- श्री विष्णु सहस्रनाम स्तोत्र का पाठ करें।

8- वृश्चिक राशि
बुध आपकी राशि से 12वें भाव यानि व्यय भाव में गोचर करने वाला है। जो लोग विदेशों से जुड़ा व्यापार करते हैं या किसी विदेशी कंपनी में काम करते हैं उनके लिए यह गोचर अच्छा रह सकता है, लाभ मिलने की पूरी संभावना है। स्वास्थ्य के लिहाज से भी बुध का यह गोचर आपके लिए बहुत शुभ नहीं है। वहीं इस दौरान आपको आर्थिक चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है।

साथ ही खर्चों में वृद्धि देखने को मिलेगी। धन बचत करने के लिए आपको पहले बजट बनाने की जरूरत है और उसी हिसाब से धन खर्च करें। मित्रों की साहयता से बाहर जाने का प्लान बन सकता है। गोचर काल में अपने स्वास्थ्य का भी पूरा ध्यान रखें।

उपाय- बुध बीज मंत्र का जाप करें।

9- धनु राशि
बुध आपकी राशि से 11वें भाव यानि आय भाव में गोचर करने वाला है। आपके जीवन के विभिन्न पक्षों में इस दौरान सकारात्मक बदलाव देखे जा सकते हैं। जो जातक नौकरी पेशा से जुड़े हैं उनको कार्यक्षेत्र में अपने काम के अच्छे फल मिलेंगे। इस दौरान इस राशि के कुछ जातकों को कार्यक्षेत्र में पदोन्नति मिल सकती है साथ ही आमदनी में वृद्धि की भी संभावना है। इस दौरान परिवार में सुखमय माहौल रहेगा। साथ ही कार्यक्षेत्र में भी अच्छे फल प्राप्त होंगे। नई चीज खीखने का मौका मिलेगा। भाई-बहनों और रिश्तेदारों के साथ संबंधों में मजबूती आएगी। व्यापार में कुछ समय से आ रही समस्याओं से मुक्ति मिलेगी।

उपाय- बुधवार के दिन हरे फलों का दान करें।

10- मकर राशि
बुध आपकी राशि से 10वें भाव यानि कर्म भाव में गोचर करने वाला है। इस दौरान विद्यार्थियों को शिक्षा के क्षेत्र में नई उपलब्धि मिलेगी। कार्यक्षेत्र में अधूरी योजनाओं को भी पूरा करेंगे। अगर आप कारोबार का विस्तार करना चाहते हैं तो यह समय शुभ है। इस राशि के लोगों को जीवन को बेहतर बनाने के कई नए अवसर इस दौरान मिल सकते हैं, आपको बस सतर्क रहना है और सही समय पर सही कदम उठाना है। इस राशि के विद्यार्थियों के लिए यह समय अनुकूल नजर आ रहा है, शिक्षा के क्षेत्र में आपको उपलब्धि मिल सकती है। व्यापारियों को लाभ की संभावना बन रही है, साथ ही जीवन को बेहतर बनाने के नए अवसर भी प्राप्त होंगे।

उपाय- घर के पूजा स्थल में कपूर का दीया जलाएंगी।

11- कुंभ राशि
बुध आपकी राशि से नौवें भाव यानि भाग्य भाव में गोचर करने वाला है। बुध का यह गोचर कुंभ राशि के जातकों के लिए कई मायनों में अच्छा रहेगा। इस दौरान धर्म-कर्म के कार्य में रुचि बढ़ेगी, जिससे मानसिक शांति प्राप्त होगी। वहीं इस दौरान आपकी तार्किक क्षमता बढ़ेगी, गणित, विज्ञान जैसे विषयों में आप अच्छा प्रदर्शन कर पाएंगे। इस राशि के जो जातक बेरोजगार हैं इस दौरान भाग्य उनका साथ दे सकता है और किसी अच्छी जगह उनकी नौकरी लग सकती है।धार्मिक किताबों को पढ़ने का मौका मिलेगा, साथ ही धार्मिक यात्रा पर भी जा सकते हैं। परिवार और कार्यक्षेत्र में संतुलन बनाने की कोशिश करेंगे। जीवनसाथी के स्वास्थ्य की तरफ ध्यान दें। कारोबारियों के लिए गोचर काल लाभदायक रहेगा।

उपाय- हरी वस्तुओं का दान करें खासकर बुधवार के दिन।

12- मीन राशि
बुध आपकी राशि से आठवें भाव यानि आयु भाव में गोचर करने वाला है। इस राशि के जातकों के लिए बुध का यह गोचर चुनौतीपूर्ण रह सकता है। कार्यक्षेत्र में आपको चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है आपको किसी झूठे मामले में फंसाया जा सकता है, क्योंकि आपके दुश्मन इस दौरान सक्रिय रहेंगे। इस अवधि में आपको बहुत सतर्क रहने की आवश्यकता है। इस दौरान कार्यक्षेत्र में आपको चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही किसी करीबी से धोखा खाने की आशंका बन रही है।

कोर्ट-कचहरी के मामलों से दूरी बनाकर रखें और केवल अपने कार्य पर ध्यान दें। विज्ञान के क्षेत्र से जुड़े जातकों के लिए गोचर काल शुभ रहेगा। वाहन और वायरस से दूरी बनाकर रखें। जबकि आध्यात्मिक उन्नति के मौके आपको प्राप्त होंगे। इस राशि के जो जातक किसी शोध कार्य में लगे हैं उनके लिए यह गोचर अच्छा रह सकता है, आपके शोध को नई गति मिल सकती है। वहीं इस राशि के जो लोग वाहन चलाते हैं उन्हें इस समय सावधान रहने की जरुरत है।

उपाय- बुआ, मामी, या छोटी कन्याओं को कोई उपहार दें।



source https://www.patrika.com/religion-and-spirituality/good-and-bad-effects-of-mercury-transit-in-libra-september-2020-6409842/

Comments