कन्या संक्रांति 2020: सूर्य बदलने जा रहा है राशियों का गणित, जानें किसे बनाएगा मालामाल तो कौन होगा कंगाल

ज्योतिष के अनुसार ग्रहों की चाल लगातार हमें प्रभावित करती रहती है। ऐसे में जहां ज्योतिष के सभी नौ ग्रह हमारे जीवन में प्रभाव डालते है। वहीं एक ऐसा ग्रह भी है, जिसे ग्रहों का राजा माना जाता है और यह कभी भी वक्री गति से नहीं चलता है। जी हां, हम बात कर रहे हैं सूर्य की, जो कुंडली में आपकी आत्मा के कारक माने जाते हैं। सितंबर में ये भी अपनी राशि बदलने जा रहे हैं। सूर्यदेव के इस परिवर्तन का हर किसी पर अलग अलग प्रभाव पड़ेगा।

पंडित सुनील शर्मा के अनुसार दरअसल साल 2020 में सूर्यदेव 16 सितंबर 2020 को 19:07 मिनट पर सिंह से कन्या राशि में गोचर करेंगे और 17 अक्टूबर 07:05 बजे तक सूर्य देव इसी राशि में रहेंगे, जिसके बाद यह तुला राशि में गोचर कर जाएंगे। सूर्य का कन्या राशि में यह गोचर सभी 12 राशियों पर अपना खास असर छोड़ेगा।

MUST READ : जानें सितंबर 2020 के पर्व व त्यौहार

https://www.patrika.com/religion-news/september-2020-hindu-festivals-calendar-in-hindi-hindu-calander-6378010/

सूर्य ग्रह के गोचर को ज्योतिष शास्त्र में बहुत अहम माना गया है। सूर्य एक राशि में लगभग एक महीने स्थित रहता है और उसके बाद अगली राशि में गोचर कर जाता है। सूर्य के गोचर को सूर्य संक्रांति के नाम से भी जाना जाता है, इस तरह पूरे साल में 12 संक्रांतियां होती हैं। सितंबर के माह में सूर्य देव सिंह राशि से निकलकर कन्या राशि में प्रवेश करेंगे। इस दिन को कन्या संक्रांति के नाम से भी जाना जाता है।

आपकी राशि पर सूर्य के परिवर्तन का असर व बचाव के उपाय...

1. मेष राशि
इस दौरान आपकी राशि से सूर्यदेव छठवें भाव यानि शत्रु,रोग भाव में गोचर करेंगे। सूर्य का आपके षष्ठम भाव में होना आपके लिए शुभ संकेत लेकर आएगा। मेष राशि के जातक इस दौरान अपने शत्रुओं पर विजय प्राप्त करेंगे।

यात्रा में इस के दौरान आपको सफलता मिलेगी। इस राशि के प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे जातकों को इस समय काल में शुभ फलों की प्राप्ति होगी। वहीं नौकरी पेशा जातकों को भी इस गोचर काल के दौरान लाभ मिलेगा।

कारोबारियों के लिए इस समय अपने कारोबार को फैलाने का समय नहीं है, यदि आप वर्तमान स्थिति को ही बेहतर बनाने की कोशिश करेंगे तो यह गोचर आपके लिए शुभ रहेगा। आपका स्वास्थ्य इस गोचर काल के दौरान अच्छा रहेगा।

उपाय- हर रोज सूर्योदय के समय सूर्य देव को अर्घ्य चढ़ाएं,शुभ रहेगा।

2. वृषभ राशि
सूर्यदेव इस दौरान आपकी राशि के जातकों के पंचम भाव यानि बुद्धि/पुत्र भाव में गोचर करेंगे। इस दौरान जिन लोगों की शिक्षा किसी वजह से बीच में ही छूट गई थी वो एक बार फिर शिक्षा प्राप्त करने के लिए आगे बढ़ सकते हैं। इ
इस राशि के जो जातक प्रेम संबंधों में पड़े हैं उन्हें इस दौरान दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। वहीं शादीशुदा लोगों को भी इस समय काल में बहुत सोच-समझकर आगे बढ़ने की सलाह दी जाती है।
आपके व्यवहार में अहम की अधिकता सूर्य के इस गोचर के कारण आ सकती है।

उपाय- प्रतिदिन सूर्याष्टकम का पाठ करें, शुभ रहेगा।


3. मिथुन राशि
आपकी राशि के चतुर्थ भाव यानि सुख/मां के भाव में इस समय सूर्य ग्रह का गोचर होगा। सूर्य के इस गोचर के दौरान आपको अपने माता पिता का विशेष ध्यान रखना होगा। उनकी छोटी-मोटी बीमारी को भी नज़रअंदाज़ न करें और किसी अच्छे चिकित्सक से उनका इलाज करवाएं।

भाई-बहनों यदि नौकरी पेशा हैं तो उनकी आमदनी में वृद्धि हो सकती है। इस समय काल में आपकी राशि के लोगों को किसी भी तरह का निवेश करने से बचना चाहिए, यदि आप कोई प्रॉपर्टी खरीदना या बेचना चाहते हैं तो इस समय रुक जाएं।

कार्यक्षेत्र में नौकरी पेशा लोगों की एकाग्रता में कमी देखी जा सकती है जिससे उच्च अधिकारी नाखुश होंगे। इस राशि के कुछ लोग खुद को परिवार और समाज से अलग-थलग महसूस कर सकते हैं। शिक्षा के क्षेत्र में अच्छे फल पाने के लिए इस राशि के विद्यार्थियों को अधिक मेहनत करनी पड़ेगी।

उपाय- शुभ फलों की प्राप्ति के लिए सूर्य बीज मंत्र का जाप करें।

MUST READ : सितंबर 2020- सात ग्रहों में होेने जा रहा है ये बड़ा बदलाव, जानिये इनके परिवर्तन का आप पर असर

https://www.patrika.com/religion-and-spirituality/rashi-parivartan-of-seven-astrological-planets-on-september-2020-6379540/

4. कर्क राशि
आपकी राशि के जातकों के तृतीय भाव यानि पराक्रम/छोटे भाई बहन भाव में इस समय सूर्य देव का गोचर रहेगा। यह गोचर जीवन में कई सकारात्मक बदलाव लेकर आएगा। आपके पारिवारिक जीवन की बात की जाए तो इस समय घर के लोगों का आपको पूरा सहयोग प्राप्त होगा, जिससे आपके कई काम पूरे हो जाएंगे। हालांकि किसी बात को लेकर भाई-बहनों से तनाव हो सकता है।

इस राशि के जातकों के आर्थिक पक्ष में इस दौरान सुधार आएगा और आपको आय के नए-नए साधन प्राप्त हो सकते हैं। कार्यक्षेत्र और सामाजिक जीवन में आप अपनी वाणी से लोगों को प्रभावित कर सकते हैं। यदि कारोबार करते हैं तो वाणी के दम पर आपको कोई अच्छी डील प्राप्त हो सकती है।

इस राशि के लोगों को आय के नए-नए स्रोत इस समय काल में प्राप्त होने की संभावना है। हालांकि आपको अधिक काम करने से इस दौरान बचना चाहिए नहीं तो उलझनों में पड़ सकते हैं।

उपाय- अपने पिता या पितातुल्य लोगों की सेवा करें।


5. सिंह राशि
आपकी राशि के जातकों के द्वितीय भाव यानि धन भाव में इस दौरान सूर्य ग्रह का गोचर रहेगा। यह गोचर आपके लिए कई तरह से शुभफलदायक सिद्ध हो सकता है। आपके द्वितीय भाव में सूर्य के गोचर से आपकी क्षमता में और निखार आएगा। यदि आप किसी ऊंचे पद पर हैं तो अपने वाणी के दम पर अपने अधिनस्थों को प्रभावित कर सकते हैं। इस राशि के लोगों के जीवन में आर्थिक उन्नति के इस दौरान कई मौके आ सकते हैं बस आपको इतना ख्याल रखना है कि आप अपने अहम को अपने आप पर हावी न होने दें।

इस राशि के लोग इस गोचर के दौरान अपने भविष्य को सुधारने के लिए बचत करेंगे। लेकिन यदि कोई काम आपके मुताबिक न हुआ तो आपकी वाणी में कठोरता इस दौरान आ सकती है। इस समय सिंह राशि के लोगों को छोटे-मोटे निवेश से ज्यादा लोंग टर्म का कोई निवेश करना चाहिए। खानपान में आपको सुधार लाना होगा नहीं तो स्वास्थ्य बिगड़ सकता है। अपनी आंखों का भी इस समय विशेष ध्यान रखें।

उपाय- रविवार के दिन अपने पिता को कोई उपहार दें।

6. कन्या राशि
इस समय आपकी राशि के जातकों के प्रथम भाव यानि लग्न भाव में सूर्य ग्रह का गोचर रहेगा। यह भाव से आपके चरित्र, व्यक्तित्व, स्वास्थ्य, स्वभाव आदि पर विचार किया जाता है। इस भाव में सूर्य का गोचर आपके लिए चुनौतीपूर्ण रह सकता है। वहीं इस दौरान आपको अपने स्वास्थ्य का आपको विशेष ध्यान रखना होगा।
मानसिक परेशानियों से बचने के लिए ध्यान करें। इस समय आपके स्वभाव में भी इस दौरान चिड़चिड़ापन देखने को मिल सकता है और आपकी वाणी में कठोरता आ सकती है। इस राशि के लोगों के दांपत्य जीवन की बात की जाए तो किसी वजह से जीवनसाथी के साथ नोक झोंक हो सकती है जिससे परिवार का माहौल खराब हो सकता है। समस्याओं को दूर करने के लिए सबसे खुलकर बात करें।

उपाय- रविवार के दिन गुड़ का दान करें, शुभ फल मिलेंगे।


7. तुला राशि
इस दौरान आपकी राशि के जातकों के द्वादश भाव यानि व्यय भाव में सूर्य ग्रह का गोचर होगा। इस राशि के उन लोगों के लिए सूर्य का यह गोचर फलदायी साबित होगा, जो किसी विदेशी संस्था में काम करते हैं या विदेशों से जुड़ा कोई व्यापार करते हैं। अपने खर्चों पर इस अवधि में विशेष ध्यान देने की जरुरत है, बेवजह के चीजों पर धन खर्च करने से इस दौरान बचें। जमा धन को इस्तेमाल करने की नौबत आए ऐसा कोई भी काम इस दौरान न करें।

पारिवारिक जीवन की बात की जाए तो बड़े भाई-बहनों का इस दौरान आपको सहयोग प्राप्त होगा जिसके चलते आपको फायदा हो सकता है वहीं आपके भाई-बहनों को भी उनके कार्यक्षेत्र में इस समय अच्छे फल प्राप्त होंगे। हालांकि स्वास्थ्य को लेकर इस राशि के लोगों को विशेष ध्यान देने की जरुरत है पेट और बायीं आंख से जुड़ी कोई समस्या हो सकती है।

उपाय- सूर्य देव की कृपा प्राप्त करने के लिए पिता या पितातुल्य लोगों की सेवा करें।

8. वृश्चिक राशि
इस समय वृश्चिक राशि के जातकों के एकादश भाव यानि आय भाव में सूर्य ग्रह का गोचर रहेगा। इस राशि के जो जातक नौकरी पेशा हैं उनकी आय में इस दौरान बढ़ोत्तरी हो सकती है। वहीं व्यापारियों को भी लाभ प्राप्त करने का पूरा मौका सूर्य देव देंगे। कुल मिलाकर सूर्य देव का आपके एकादश भाव में होना यह इंगित करता है कि आप इस दौरान जीवन के कई क्षेत्रों में लाभ प्राप्त करेंगे।

इसके साथ ही जो जातक राजनीति के क्षेत्र से जुड़े हैं, उन्हें भी इस गोचर के समय शुभ फल प्राप्त हो सकते हैं। वहीं इस राशि के जो लोग लंबे समय से जॉब कर रहे हैं और अब कारोबार करना चाहते हैं उनको भी इस समय नई दिशाएं मिल सकती हैं।

यदि आप कारोबार शुरु करने की कोशिश में हैं, तो यह समय आपके लिए सबसे शुभ साबित हो सकता है। हालांकि इस दौरान आपको अपने गुस्से को काबू में रखना होगा। इस राशि के विद्यार्थियों को शिक्षा के क्षेत्र में अपने पिता का पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा।

उपाय- रविवार के दिन जरुरतमंदों को उनकी जरुरत की चीजें दान दें।


9. धनु राशि
इस दौरान आपकी राशि के जातकों के दशम भाव यानि कर्म भाव में सूर्य ग्रह का गोचर होगा। इस भाव में सूर्य मजबूत अवस्था में होता है और उसे दिशा बल प्राप्त होता है। धनु राशि के जातकों के लिए यह समय शुभ रहेगा। इस दौरान नौकरी पेशा से जुड़े लोगों को कार्यक्षेत्र में उच्च पदों की प्राप्ति हो सकती है। इस दौरान काम के प्रति आप बहुत संजीदा रहेंगे जिससे आपके सहकर्मी भी आपसे प्रभावित होंगे।

सरकारी क्षेत्र से भी लाभ होने की संभावना है। आपका मान-सम्मान भी इस दौरान बढ़ सकता है। यदि अतीत में किसी वजह से आपको कोई काम अटक गया था तो वो भी इस दौरान आप पूरा कर सकते हैं। हालांकि इस दौरानअत्यधिक अधिकारात्मक रवैया अपनाने से बचें।

इस गोचर काल में पिता के साथ आपके संबंधों में भी निखार आएगा। इस गोचर काल के दौरान अत्यधिक आलोचना करने और लोगों के काम में मीन-मेख निकालने से बचें।

उपाय- रविवार के दिन अनामिका अंगुली पर माणिक्य रत्न धारण करें, लेकिन किसी जानकार से सलाह के बाद ही...।

10. मकर राशि
आपकी राशि के जातकों के नवम भाव यानि भाग्य भाव में इस समय सूर्य ग्रह का गोचर होगा। इस गोचर काल के दौरान मकर राशि के लोगों को कॅरियर क्षेत्र में बहुत संभलकर रहना होगा। ऐसा कोई भी फैसला इस दौरान न लें जिससे आपका भविष्य प्रभावित हो, जॉब चेंज करने की सोच रहे हैं तो इस दौरान रुक जाएं।

बिजनेस को फैलाने से पहले किसी अनुभवी व्यक्ति की सलाह लेकर हीं आगे बढ़ें। उच्च अधिकारियों या गुरुजनों के साथ इस दौरान आपके मतभेद हो सकते हैं।

इस दौरान किसी भी तरह की यात्रा से बचें, वहीं स्वास्थ्य को लेकर गंभीर रहें और खुद को फिट रखने के लिए शारीरिक और मानसिक व्यायाम करें।

उपाय- सूर्योदय के समय सूर्य नमस्कार का अभ्यास करें, शुभ रहेगा।


11. कुंभ राशि
इस समय सूर्यदेव आपकी राशि के जातकों के अष्टम भाव यानि आयु भाव में गोचर करेंगे। इस भाव में सूर्य के गोचर से आपके जीवनसाथी के स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है, जिसकी वजह से आपकी भी चिंताएं बढ़ेगी। वहीं आप जो भी काम कर रहे हैं, उसमें इस अवधि में रुकावट आ सकती हैं।
यदि आप साझेदारी में व्यापार करते हैं तो कोई छोटी सी वजह साझेदार के साथ मनमुटाव का कारण बन सकती है, जिसके कारण आपके कारोबार में भी घाटा हो सकता है। अपने आर्थिक पक्ष पर भी आपको विशेष ध्यान देने की जरुरत है, इस दौरान किसी भी तरह का निवेश बहुत ही सोच-समझकर करें।

उपाय- रविवार के दिन सूर्योदय के समय किसी मंदिर में जाकर दान करें।

12. मीन राशि
आपकी राशि के जातकों के सप्तम भाव यानि विवाह भाव में इस दौरान सूर्य ग्रह का गोचर होगा। दांपत्य जीवन में कुछ परेशानियां हो सकती हैं। आप छोटी-छोटी बातों को लेकर गुस्से में आ सकते हैं जिसके कारण आपका जीवनसाथी परेशान होगा।

अपनी बातों को यदि आप स्पष्टता के साथ जीवनसाथी से शेयर करें तो कई परेशानियां दूर हो सकती हैं। आपके विरोधी इस दौरान आपको परेशानियों में डाल सकते हैं, इसलिए सतर्क रहें। आपको इस दौरान अपनी इच्छा शक्ति पर काम करने की जरुरत है। इस राशि के कई लोगों को जरुरी फैसले लेने में इस समय दिक्कत आ सकती है। इस समय जीवन में उतार-चढ़ाव आएंगे लेकिन आपको धैर्य के साथ आगे बढ़ना होगा और हर परिस्थिति का डटकर सामना करना होगा।

आपमें गुस्से की अधिकता इस दौरान देखी जा सकती है जिसके कारण लोग आपसे दूर रहने की कोशिश करेंगे।

उपाय- रविवार के दिन तांबे का दान करें शुभ फल प्राप्त होंगे।



source https://www.patrika.com/religion-news/good-and-bad-effects-of-sun-to-virgo-transit-6381491/

Comments