वास्तु शास्त्र : यह उपाय न केवल पैसा रोकता है बल्कि आय में भी करता है इजाफा

आज के दौर में पैसा जीवन की एक महत्वपूर्ण चीज बन गई है। ऐसे में हर कोई दिन रात पैसा कमाने की होड़ में लगा दिखता है। ताकि व स्वयं व अपनों को जीवन की समस्त सुख सुविधाएं प्रदान कर सके, लेकिन कई बार हम बहुत ही मेहनत करके जो भी पैसा कमाते हैं वह पैसा हमारे पास ज्यादा दिन तक नहीं टिक पाता। घर में धन आता है और चला जाता है। ऐसा पैसा रखने के स्‍थान के अलावा भी कुछ अन्य दोष होने के कारण होता है।

कुल मिलाकर धन की आवश्यकता आज के दौर में हर किसी को है, कोई माने या ना माने लेकिन पैसे के बिना आज के समय में अपनी ज़िंदगी जीना मुश्किल है। या फिर शायद असंभव ही है, क्योंकि हम कुछ भी करें उसके लिए हमें धन की आवश्यकता होती ही है। ऐसे में आजकल हर कोई ज्यादा से ज्यादा धन कमाने की कोशिश में लगा रहता है।

लेकिन पैसा कमाने के साथ-साथ यह पैसा आपके पास बना रहे, बेवजह खर्चा ना हो और आप गलती से भी किसी कर्जे के नीचे ना दब जाएं यह भी तो जरूरी है। इन सभी पहलुओं में से सबसे परेशानी वाली स्थिति तब उत्पन्न होती हैं जब तमाम कोशिशों के बावजूद हमारे घर में पैसा आकर रुके ही न और हम किसी के कर्ज़दार बन जाएं।

वास्तु की जानकार रचना मिश्रा के अनुसार अगर लाख पैसा कमाने के बाद घर में पैसा नहीं टिकता हो तो इसका कारण वास्तुदोष हो सकता है। ऐसे में कुछ वास्तु उपाय कर न केवल पैसे को रोका जा सकता है बल्कि घर में धन की आमदनी भी बढाई जा सकती है।

ये हैं उपाय-

: घर में तिजोरी का मुंह उत्तर की ओर रखें। उतर की ओर रखने से धन में लाभ होता है और पैसा घर में टिका रहता है। धन रखने की जगह दक्षिण की तरफ नहीं होनी चाहिए।

: शयन कक्ष की दीवार या कोनों में मेटल यानी धातु की कोई चीज नहीं होनी चाहिए। बेडरूम की दीवारों के कोनों में किसी भी तरह की दरार नहीं होनी चाहिए। इससे आर्थिक नुकसान होता है।

: घर के अंदर से जो पानी का बाहर निकलता है उसकी ठीक दिशा न होने से भी पैसों की कमी व आर्थिक नुकसान हो सकता है।

: जल की निकासी पश्चिम और दक्षिण की तरफ से नहीं होनी चाहिए। यह हमेशा पूर्व व उत्तर दिशा से ही होनी चाहिए। इन दिशाओं से जल निकासी शुभ माना जाता है। जिससे घर में पैसों की कमी नहीं होती है।

: यदि घर के गैराज या घर के अंदर कबाड़ या टूटे हुए बर्तन हों तो तुरंत उन्हें बाहर कर दें। अक्सर देखा जाता है कि घरों में आलमारी, टूटा पलंग व अन्य लकड़ी के सामान घर में ही पड़े रहते हैं। इससे घन की कमी व आर्थिक नुकसान होता है और अत्याधिक खर्च भी बढ़ता है।

: घर में नलों से पानी टपकना या नलकों को टाईट से बंद न करना जिस वजह से पानी टपकता रहता है। ये चीज भी वास्तुदोष पैदा करती है। जिससे गंभीन नुकसान होता है। नल से पानी टपकना यानि धीरे-धीरे पैसों का खर्च होना। इसलिए नलों को टाइट करके रखें।



source https://www.patrika.com/religion-and-spirituality/how-to-increase-your-money-6399508/

Comments