पूरी धरती को कागज बना दो, जंगल की सभी लकड़ियों को कलम और सातों समुद्रों को स्याही बनाकर लिखने पर भी गुरु के गुण नहीं लिखे जा सकते हैं

शनिवार, 5 सितंबर को शिक्षक दिवस है। ये दिवस भारत के प्रथम उपराष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन पर मनाया जाता है। इस दिन शिक्षकों का विशेष सम्मान किया जाता है। इंसान ही नहीं देवताओं ने भी गुरु का स्थान सबसे ऊंचा माना है। श्रीराम ने ऋषि वशिष्ठ और विश्वामित्र को गुरु बनाया और श्रीकृष्ण के गुरु सांदीपनि थे। शिवजी के अंशावतार हनुमानजी ने सूर्यदेव को अपना गुरु बनाया था।

तुलसीदास और कबीरदास ने भी गुरु के महत्व को बताने के लिए दोहे लिखे हैं। शास्त्रों में भी कई श्लोक हैं, जिनमें गुरु की महिमा बताई गई है। जानिए गुरु का महत्व बताने वाले कुछ खास दोहे और श्लोक...



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Facts about Guru, quotes on guru, teachers day 2020, quotes on teachers, shlok and doha on guru


Comments