Blue Moon : 31 अक्टूबर को होंगे दुर्लभ चांद के दर्शन, जानें इसका असर, दिखने का समय और कारण

एक दिन बाद ही आने वाले शनिवार यानि 31 अक्टूबर मतलब हैलोवीन के दिन आसमान में पहली बार ब्लू मून (Blue Moon) नजर आने वाला है। इस खास पल की इस बार पूरी दुनिया साक्षी बनेगी। इसके बाद अब लोगों को वर्ष 2039 में ब्‍लू मून देखने को मिलेगा। बताया जाता है कि जब दूसरा वर्ल्‍ड वार हुआ था तब पूरे विश्‍व में ब्‍लू मून एक साथ देखा गया था। अब पूरे 76 साल बाद यह घटना होने जा रही है।

कोरोना (Corona) संकट ने 2020 में पूरी दुनिया को बुरा दौर दिखाया है लेकिन 31 अक्टूबर को होने जा रही ये खगोलीय घटना लोगों को एक सुखद अनुभव दे सकती है।

ब्लू मून आख‍िर है क्या?
Blue Moon एक असामान्य घटना है जो कि हर दो या तीन साल में देखने को मिलती है, लेकिन वर्ष 2020 में दिखने वाले इस नीले चंद्रमा को दोबारा देखने के लिए साल 2039 तक का यानि 19 साल का इंतजार करना पड़ेगा। जानकारों की मानें तो 'ब्लू मून' अर्थात 'नीला चांद' कहलाने वाला यह दुर्लभ नजारा इस बार लोगों के लिए काफी खास होने वाला है।

ब्‍लू मून का यह खूबसूरत दृश्‍य 31 अक्‍टूबर को दिखाई देगा। असल में, एक दुर्लभ घटना के चलते लोगों को आसमान में नीला चांद यानी ब्‍लू मून को देखने को मिलेगा। माना जा रहा है कि यह अनोखा नज़ारा कई वर्षों के बाद देखने को मिल रहा है। विदेशों में इस दिन हैलोवीन नाम का इवेंट होगा, इसलिए वहां इस ब्‍लू मून का आकर्षण ज्‍़यादा ही बढ़ गया है।

इस ब्‍लू मून को उत्‍तरी, दक्षिणी अमेरिका, भारत, एशिया और यूरोप के कई देशों में देखा जा सकेगा। वहीं कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आज से 30 साल पहले भी ब्‍लू मून देखा गया था। इससे पहले भी यह देखा गया, लेकिन अलग-अलग जगहों पर। इस बार यह पूरे विश्‍व में एक साथ देखा जा सकेगा।

सामने आ रही जानकारी के अनुसार ज्यादातर ब्लू मून पीले और सफेद दिखते हैं, लेकिन इस बार ये चांद उन सभी से हटकर होगा जो अभी तक देखे गए हैं। कैलेंडर के महीने में बदलाव होने पर दूसरी पूर्णिमा के चंद्रमा के भौतिक गुणों (आकार-प्रकार) में बदलाव नहीं होता है, इसलिए इसका रंग एक ही रहता है। नासा के अनुसार वैसे कभी कभी नीला चांद दिखना सामान्य है लेकिन इसके पीछे वजह अलग होती है। ये अक्सर वायुमंडलीय परिस्थितियों के चलते नीला नजर आने लगता है। इसमें कैलेंडर का समय बदलने की वजह शामिल नहीं होती है।

इसी तरह की घटना का एक उदाहरण साल 1883 में सामने आया था। उस दौरान ज्वालामुखी क्राकोटा फट गया था। इससे ज्वालामुखी से निकलने वाली धूल हवा में घुल गई थी। इससे चांद नीला दिखाई देने लगा था लेकिन ये खगोलीय घटना नहीं मानी जाएगी। वैसे भी ब्लू मून का अर्थ नीला चांद नहीं है, बल्क‍ि एक माह में दो पूर्ण‍िमा होने पर दूसरी पूर्ण‍िमा के फुल मून को ब्लू मून कहा जाता है।

इस तरह की खगोलीय घटनाएं कई साल में एक बार होती हैं। ये ब्लू मून मासिक यानी कैलेंडर के आधार पर होगा। 31 अक्टूबर, 2020 को पूर्णिमा होगी यानी इस दिन पूरा चांद दिखाई देगा। वैसे अक्टूबर के महीने में दो पूर्ण चंद्रमा निर्धारित हैं, लेकिन इस बार यानी 31 अक्टूबर का पूर्ण चंद्रमा ब्लू मून के रूप में नजर आएगा।

ऐसे देखा जा सकेगा ब्लू मून...
खगोल वैज्ञानिकों के अनुसार अगर 31 अक्टूबर की रात आसमान साफ रहेगा तो इस रात कोई भी टेलीस्कोप की मदद से ब्लू मून देख सकता है। इस खगोलीय घटना का साक्षी बनने के लिए नेहरू तारामंडल सहित कई खगोल वैज्ञानिक बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। ज्ञात हो कि चंद्र मास की अवधि 29.531 दिनों अर्थात 29 दिन, 12 घंटे, 44 मिनट और 38 सेकंड की होती है, इसलिए एक ही महीने में दो बार पूर्णिमा होने के लिए पहली पूर्णिमा उस महीने की पहली या दूसरी तारीख को होनी चाहिए। इस बार ये 31 अक्टूबर को होने जा रहा है, इसलिए ये खगोलीय घटना खास मानी जा रही है।

इस समय देखें ब्लू मून? When to see Blue Moon
ब्लू मून को आप 30 अक्टूबर 2020 की शाम 5:45 बजे से 31 अक्टूबर रात्रि 8:18 बजे तक देख सकते हैं। अगर आप इस समय ब्लू मून को नहीं देख पाते तो आप को 19 साल का इंतजार करना पड़ेगा। यानि अब आपको इसे देखने का दोबारा मौका 2039 में ही मिलेगा।

क्या होता है हंटर्स मून? What is Hunter's Moon
हंटर्स मून शब्द का इस्तेमाल पारंपरिक रूप से अक्टूबर महीने की पूर्णिमा के चांद के लिए किया जाता है, लेकिन ये हार्वेस्ट मून के बाद वाली पूर्णिमा के चांद के लिए उपयोग किया जाता है। अक्टूबर महीने की शुरुआत हार्वेस्ट मून से हुई थी, यानी इस महीने में आने वाली दूसरी पूर्णिमा का चांद हंटर मून है।

ऐसे पड़ा यह नाम? Hunter's Moon Significance
हंटर्स मून के नाम के पीछे कई और कारण भी बताये जाते हैं. पुराने जमाने में इस पूर्णिमा पर कई आदिवासी आने वाली सर्दियों से पहले खाने के इंतजाम के लिए शिकार पर जाते थे। हंटर अंग्रेजी का शब्द है और इसका मतलब होता है शिकारी, ऐसे में अक्टूबर के चांद को हंटर्स मून कहा जाता है।

हैलोवीन क्या है? What is Halloween
हैलोवीन हर साल अक्टूबर महीने की आखिरी तारीख यानी 31 अक्टूबर को मनाया जाता है। इसे मनाने के पीछे कई परंपराएं और रीति रिवाज बताए जाते हैं। गैलिक परंपरा को मानने वाले लोग इस दिन को त्योहार की तरह मनाते हैं। यह फसल के मौसम का आखिरी दिन होता है और इसी दिन से सर्दियों की शुरुआत भी होती है। इसके साथ ही मान्यता है कि इस दिन मरे हुए लोगों की आत्माएं उठती हैं और धरती पर मौजूद जिंदा आत्माओं को परेशान करती हैं। ऐसे में उन बुरी आत्माओं का डर भगाने के लिए लोग भूत-प्रेत जैसे कपड़े पहनते हैं और अलाव जलाते हैं।

राशियों पर असर effects on zodiac signs...
1. मेष राशि :
आपके लिए ब्लू मून अच्छे संकेत लाएगा। आपको कोई ऐसा प्रोजेक्‍ट मिल सकता है जिस पर काम करने के लिए आप काफी समय से योजना बना रहे थे। रचनात्मक ढंग से व नयी दिशा में काम करने से सफलता अवश्य मिलेगी।

2. वृषभ राशि
इस ब्‍लू मून का असर आप पर सीधे तौर पर पड़ेगा। आपकी आर्थिक स्थिति में कुछ बदलाव आएंगे और आप सकारात्‍मक रुप से जिंदगी के बारे में कुछ बदलाव लाएंगे। आपके रुके हुए काम भी पूर्ण होंगे।

3. मिथुन राशि
ब्लू मून अच्छे संकेत लेकर आ रहा है। जल्द ही कोई अच्छी खबर सुनने को मिलेगी। आपकी किस्मत में जरूर सकारात्मक बदलाव आएगा। इस महीने आपको कोई चटपटी खबर सुनने को मिल सकती है।

4. कर्क राशि :
आपको थोड़ी सावधानी बरतने की आवश्यकता है। ब्लू मून थोड़े ज्यादा खर्चे करने के संकेत दे रहा है। इस साल आपको अनावश्‍यक खर्चों से बचना होगा। कहीं भी निवेश करने से पहले अच्छी तरह सोच समझ लें अन्यथा धन हानि की संभावना है।

5. सिंह राशि :
आपकी राशि में कॅरियर को लेकर अच्छे बदलाव के संकेत हैं। इस महीने आप अपने सहकर्मियों के साथ अच्छे सम्बन्ध बनाएंगे। आस-पास के लोग आपसे ज्यादा प्रभावित होंगे।

6. कन्‍या राशि :
ब्लू मून के प्रभाव से आप थोड़े आलस्य से घिरे रहेंगे। आप किसी भी काम को जल्दी करने से कतराएंगे और इसी वजह से कुछ जगह असफलता के योग भी नज़र आ रहे हैं। जहां तक हो सके आलस्य को दूर करके अपने सभी काम कुशलतापूर्वक करने की कोशिश करें।

7. तुला राशि :
ब्लू मून का प्रभाव से आपकी दोस्ती में बदलाव आएंगे। आप नए दोस्‍तों से मिलेंगे और अपने पुराने दोस्‍तों की मदद करेंगे। जिससे दोस्ती के सम्बन्ध प्रगाढ़ होंगे।

8. वृश्चिक राशि :
ब्‍लू मून का प्रभाव आपकी कुंडली के दसवें भाव पर पड़ेगा। जिसका मतलब है कि प्रोफेशनल और पर्सनल लाइफ में आपकी छवि सुधरेगी। यदि आप किसी जॉब के लिए प्रयासरत हैं, तो सफलता मिलने की संभावना है।

9. धनु राशि :
ब्लू मून के असर से आपको कोई नयी खबर सुनने को मिलेगी। लेकिन बहुत जल्द ही आपको अपने काम से बोरियत महसूस होने लगेगी और बोरियत दूर करने के लिए आप किसी अच्छी जगह की यात्रा कर सकते हैं।

10. मकर राशि :
ब्लू मून का प्रभाव से जीवन साथी के साथ आपके सम्बन्ध और ज्यादा मजबूत होंगे और यदि आप शादी के लिए सोच रहे हैं तो जल्दी ही शादी के योग नज़र आ रहे हैं।

11. कुंभ राशि :
ब्लू मून के प्रभाव से आप दूसरों से अपने रिश्‍ते बेहतर बनाने में जुट जाएंगे। यही नहीं उनके बिगड़े रिश्तों में भी सुधार देखने को मिलेगा।

12. मीन राशि :
यहां आपको लाइफस्टाइल में थोड़े बदलाव लाने की आवश्यकता है। आपको जल्दी उठने की आदत डालने की जरूरत है, जिससे आपकी दिनचर्या में सुधार आने के साथ ही जीवन में सफलता मिले।



source https://www.patrika.com/astrology-and-spirituality/saturday-blue-moon-31october-2020-6490658/

Comments