Karwa Chauth sargi 2020: करवा चौथ पर सरगी का महत्व, सरगी की थाली सजाते समय रखें इन बातों का खास ख्याल

नई दिल्ली। Karwa Chauth Sargi 2020 हमारे देश में हर सुहागन महिलाए अपनी पति की लंबी उम्र की कामना करने के लिए निर्जला व्रत रखती है। उन्ही में से एक है करवा चौथ, जो सुहागन स्त्रियों का सबसे बड़ा त्योहार माना गया है यह व्रत इस बार 4 नवंबर को रखा जाएगा। करवा चौथ के इस खास दिन में महिलाएं सुबह-सुबह उठकर नहा-धोकर नए कपड़े धारण करती है। और सुबह चार बजे के करीब सरगी का सेवन करती हैं। आइए जानते हैं आखिर क्या होती है सरगी और सरगी की थाली सजाते समय किन चीजों का ध्यान रखना काफी जरूरी है।

क्या होती है सरगी-
सरगी करवा चौथ पर दिया जाने वाला वो आहार है जो सूर्योदय से पहले हर सास अपनी बहू को प्रसाद के रूप में खाने के लिए देती है। सरगी ग्रहण करने के बाद से ही करवा चौथ का व्रत शुरू किया जाता है। सरगी का सेवन सूर्योदय से पहले 4 से 5 बजे के करीब कर लेना चाहिए।

करवा चौथ की सरगी में जरूर शामिल करें ये चीजें-
खीर या दूध की फैनी-

सरगी में प्रसाद के तौर पर दिया जाने वाले इस आहार में खीर या फैनी का सेवन किया जाता है जो शरीर में शुगर की मात्रा और ऊर्जा का स्तर बनाए रखने के साथ दिनभर ताजगी देता है। जिसकी वजह से व्यक्ति का मूड भी अच्छा रहता है।

ड्राय फ्रूट्स -

सरगी में यदि आप कुछ ड्राय फ्रूट्स को शामिल करेंगे तो इससे आपको दिनभर थकान महसूस नहीं होगी साथ ही दिन भर आपके शरीर में ताजगी और ऊर्जा बनी रहेगी।

फल -

फल शरीर को शक्ति तो देता है लेकिन यह काफी कम समय के लिए होता है इसके लिए आप भरपूर मात्रा में समान्य पानी की जगह नारियल के पानी का सेवन करती है तो यह आपको शरीर के लिए अमृत की तरह काम करेगा। शरीर में होने वाली हर कमी को दूर करता है नारियल पानी।

मिठाई-

खाने के बाद मिठाई का सेवन करने से शरीर में कार्बोहाइड्रेट मिलता है चीनी में अमिनो एसिड ट्रीप्टोफन होता है। ट्रीप्टोफन सेरोटोनिन न्‍यूरोट्रांसमीटर के लेवल को बढ़ाता है जिससे चक्कर नहीं आते।

ककड़ी - करवा चौथ के दिन महिलाएं निर्जला व्रत रखती हैं। ऐसे में प्यास से बचने के लिए ककड़ी का सेवन बढ़िया उपाय है।



source https://www.patrika.com/astrology-and-spirituality/take-special-care-of-these-things-while-decorating-the-plate-of-sargi-6484945/

Comments