दीपावली 2020 : में आपके घर भी बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपा, बस इस बात का ध्यान रखें

इस साल दीपावली 14 नवंबर 2020 को है, और यही समय मां लक्ष्मी की विशेष कृपा पाने का माना जाता है। हर कोई इस दिन मां का आशीर्वाद पाने के लिए अपनी सामर्थ के अनुसार कोशिश भी करता है। हम यहां आपको विभिन्न ज्योतिषाचार्यों व पंडितों से बातचीत कर ऐसे चमत्कारी उपाय बता रहे हैं, जिन्हें करने से आपके ऊपर मां लक्ष्मी की विशेष कृपा बरसेगी!

यह है चमत्कारी उपाय
1. इस दिन तीन अभिमंत्रित गोमती चक्र, तीन पीली कौडियां और तीन हल्दी की गांठों को एक पीले कपडे में बांध लें, अब इस पोटली को तिजोरी में रख दें। माना जाता है कि ऐसा करने से घर में मां लक्ष्मी की विशेष कृपा बरसती है।

2. धन प्राप्ति के इच्छुक लोगों को दीपावली के दिन घर की तिजोरी या पैसा रखने वाली जगह पर लाल कपडा बिछाना चाहिए। जानकारों के अनुसार एेसा करने से धन का संचय बढता है।

3. इस दिन किसी भी मंदिर में तीन झाडू दान करें। इसके अतिरिक्त यदि आपके घर के पास कोई मां लक्ष्मी का मंदिर हो तो वहां गुलाब की सुगंध वाली अगरबत्ती का दान करें, परंतु इस दान के बारे में किसी को न बताएं। ऐसा करने से मां लक्ष्मी की कृपा बरसती है।

4. पीपल का पौधा लगाना शास्त्रों के अनुसार सदैव ही उचित माना जाता है।पंडित एस शर्मा के अनुसार यदि दीपावली पर पीपल का पौधा लगाया जाता है, तो यह घर की सुख-समृद्धि में वृद्धि करता है, लेकिन व्यक्ति को इसे लगाने के बाद नियमित रूप से इस पर जल चढाना चाहिए। माना जाता है कि ऐसा करने से पौधे में वृद्धि के साथ-साथ घर परिवार की भी समृद्धि बढती जाती है।

5. दीपावली के दिन श्वेतार्क गणेश की मूर्ति को घर लाकर लक्ष्मी पूजा के समय पूजा स्थान पर रखें। माना जाता है इनकी नियमित पूजा से घर में बरकत आती है।

MUST READ : 13 नवंबर 2020 को धनतेरस पर खरीदारी करते समय रहें सावधान, ऐसे परखें असली चांदी-सोना

https://www.patrika.com/religion-and-spirituality/dhanteras-2020-how-to-test-purity-of-gold-and-silver-be-alert-6503107/

6. दीपावली के दिन किसी तालाब,नहर या नदी में मछलियों को आटे की गोलियां खिलानी चाहिए। पंडितों के अनुसार ऐसा करने से बडी से बडी परेशानियां दूर हो जातीं हैं।

7. दिवाली के दिन व इसके बाद हर सप्ताह (एक दिन) किसी गरीब सुहागिन को सुहाग का सामान दान करें। इस उपाय से मां लक्ष्मी तुरंत प्रसन्न होकर धन संबंधी परेशानियों को दूर करती हैं।

8. दीपावली पर घर में स्थित तुलसी के पास दीपक जलाएं और साथ ही तुलसी को वस्त्र अर्पित करें। ऐसा करने से घर में बरकत आती है, वहीं पंडितों के अनुसार ये उपाय दीपावली से शुरू करके रोज शीम को करें।

9. दिवाली पर घर के मुख्य दरवाजे पर कुमकुम से स्वस्तिक बनाएं। दरवाजे के दोनों ओर कुमकुम से शुभ-लाभ लिखें। ऐसा करने से घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

10. दीपावली पर श्रीसुक्त और कनकधारा स्त्रोत का पाठ करना चाहिए, इससे साथ ही रामरक्षा स्त्रोत व सुंदरकांड का पाठ भी विशेष फल देता है।

11. दीपावली के दिन प्रात:काल शिवलिंग पर तांबे के लोटे से जल चढाएं। इस जल में केसर डालना और भी उचित माना जाता है।

12. दीपावली पर मां लक्ष्मी की पूजा के दौरान दीपक दाईं तरफ, अगरबत्ती बायीं ओर, फूल मां के सामने और प्रसाद की थाली को दक्षिण दिशा में रखना चाहिए।

dhanteras_chghariya.jpg

इस बार शनिवार की दिवाली:
ज्योतिष के जानकारों के अनुसार, इस बार 14 नवंबर को यानि शनिवार के दिन शनि का स्वराशि मकर में होना सभी के लिए लाभकारी रहेगा। इसके अलावा 17 साल बाद दिवाली सर्वार्थ सिद्धि योग में सेलिब्रेट की जाएगी। इसके पहले ऐसा शुभ मुहूर्त साल 2003 में बना था। दिवाली पर माता लक्ष्मी और भगवान गणेश की विधि-विधान से पूजा की जाती है। जानिए लक्ष्मी-गणेश पूजन का शुभ मुहूर्त-

दिवाली 2020 पर लक्ष्मी पूजन शुभ मुहूर्त-

लक्ष्मी पूजा मुहूर्त: 14 नवंबर की शाम 5:28 से शाम 7:24 तक।

सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त 14 नवंबर की शाम 5:49 से 6:02 बजे तक।

प्रदोष काल मुहूर्त: 14 नवंबर की शाम 5:33 से रात 8:12 तक।

वृषभ काल मुहूर्त: 14 नवंबर की शाम 5:28 से रात 7:24 तक।

लक्ष्मी पूजा 2020: चौघड़िया मुहूर्त

दोपहर: 14 नवंबर की दोपहर 02:17 से शाम को 04:07 तक।

शाम: 14 नवंबर की शाम को 05:28 से शाम 07:07 तक।

रात्रि: 14 नवंबर की रात 08:47 से देर रात 01:45 तक।

प्रात:काल: 15 नवंबर को सुबह 05:04 से 06:44 तक।

गृहस्थों के लिए लक्ष्मी पूजा 2020 मुहूर्त-

सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त: 14 नवंबर की शाम 5:49 से 6:02 बजे तक।

प्रदोष काल मुहूर्त: 14 नवंबर की शाम 5:33 से रात्रि 8:12 तक।

वृषभ काल मुहूर्त: 14 नवंबर की शाम 5:28 से रात्रि 7:24 तक।

सिंह लग्न मुहूर्त: 14 नवंबर की मध्य रात्रि 12:01 से देर रात 2:19 तक।

व्यापारियों के लिए लक्ष्मी पूजा मुहूर्त

सर्वश्रेष्ठ अभिजीत मुहूर्त: दोपहर 12:09 से शाम 04:05 तक।

इस बार अमावस्या तिथि लेकर यहां फंस रही है बात :
इस साल अमावस्या तिथि 14 नवंबर से प्रारंभ होकर 15 नवंबर को सुबह 10 बजकर 36 मिनट तक रहेगी। ऐसे में दिवाली 14 नवंबर को मनाई जाएगी। चूंकि दीपावली अमावस्या तिथि की रात और लक्ष्मी पूजन अमावस्या की शाम को होता है, इसलिए 14 नवंबर को ही महालक्ष्मी पूजन किया जाएगा।

दीपावली पर नहीं करें ये कार्य
1. दीपावली में देवी लक्ष्मी को मनाने और खुश करने का द‌िन है। इस द‌िन आप ऐसी कोई गलती‌ नहीं करना चाहेंगे ज‌िससे देवी लक्ष्मी आप से रूठ जाएं। इसल‌िए शास्‍त्रों में बताए गए उन गलत‌ियों को न करें ज‌िनसे लक्ष्मी नाराज होकर चली जाती हैं और घर में चोरी एवं धन का नुकसान होता है।

2. दीपावली की रात झाडू को घर की छत पर खुले में नहीं रखें। इससे चोरी की आशंका बढ़ती है। वैसे भी झाडू को छत पर नहीं रखना चाह‌िए।

3. घर की गृहलक्ष्मी यानी पत्नी को अपशब्द कहकर उनके मन को चोट नहीं पहुंचाएं। बेटी और बहनों को भी दीपावली के द‌िन बुरा भला नहीं कहना चाह‌िए। इससे लक्ष्मी नाराज होती हैं और धन का नुकसान होता है।

4. दीपावली के द‌िन कोई भ‌िक्षा मांगने आए, तो उसे खाली हाथ न जाने दें। कुछ न कुछ दान में जरूर दें।

5. दीपावली की शाम में लक्ष्मी पूजन से पहले सूर्यास्त के समय क‌िसी बाहरी व्‍यक्‍त‌ि को कुछ भी नहीं देना चाह‌िए। इससे आर्थ‌िक नुकसान उठाना पड़ता है।



source https://www.patrika.com/festivals/diwali-2020-dates-choti-diwali-dhanteras-govardhan-puja-and-bhai-dooj-6506135/

Comments