धनतेरस के दिन इन चीजों का दान करने से होगें सभी कार्य पूरे, बरस उठेगी मां की कृपा

नई दिल्ली। इस साल दीपावली (Diwali 2020) 14 नवंबर को मनाई जा रही है। दीपावली पर लगातार कई दिन तक उत्सव मनाया जाता है, इसकी शुरुआत धनतेरस (Dhanteras) से होती है। धनतेरस पर बर्तन, आभूषण और दीगर सामान खरीदने की परंपरा है। वैसे कोई भी पर्व या त्योहार हो लोग अपने सामर्थ्य के अनुसार मनाते या खरीदारी करते हैं। लेकिन धनतेरस पर लोग नई वस्तु ख़रीदते जरूर है। वैसे शास्त्रों में भी उल्लेख है कि खरीदारी के साथ ही दानपुण्य भी करना चाहिए।

शास्त्रों में भी वर्णित है कि धनतेरस के द‍िन दान करने से जीवन में धन-धान्य की कमी कभी नहीं होती है, और असहायों व गरीबों की मदद भी हो जाती है।
क्या वस्तु करें दान ?
कहते हैं दान का संबंध आत्मा से होता है इसलिए दान देते समय मन में अच्छी भावना होना आवश्यक है, इसके अलावा भावना का पवित्र होना भी जरूरी है यदि आप इस धनतेरस पर कुछ दान करना चाहते हैं तो प्रसन्न चित्त से दान करें जिसका आपको बेहतर फल मिलेगा।

वस्त्र का दान होता है शुभ
धनतेरस के शुभ अवसर पर यदि आप कुछ दान करना चाहते हैं तो वस्त्र का दान सबसे उपयोगी माना जाता है। धनतेरस के दिन जरूरतमंद को अच्छा और सुंदर वस्त्र दान करने पर उत्तम फलदाई होता है, इसलिए धनतेरस पर वस्त्र का दान अवश्य करें। जानकार यह मानते हैं यदि वस्त्र लाल और पीले रंग का हो तो और भी उत्तम फलदाई होता है। धनतेरस के दिन वस्त्र दान से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और घर में धन-धान्य की वर्षा होती है ।

अन्न दान करने से भरता है घर का भंडार  
शस्त्रों में वर्णित है धनतेरस के दिन किसी ज़रूरतमंद को आदर के साथ अपने घर बुला कर भोजन कराएँ भोजन में पूरी, चावल की खीर को खासतौर पर सम्मिलित करें इससे माता लक्ष्मी भी प्रसन्न होती हैं।इतना ही नहीं यदि आप किसी को घर पर आमंत्रित कर भोजन नहीं करा सकते हैं तो उस व्यक्ति के घर जाकर ही अनाज दें इससे भी मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं।

नारियल के साथ मिठाई दें दान में
धनतेरस के दिन दान में नारियल और मिठाई देना काफी शुभ माना जाता है। अगर किसी जरूरतमंद को धनतेरस पर नारियल और मिठाई देते हैं तो माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं। जानकार मानते है ऐसा करने से धन की कमी कभी नहीं होगी।

धनतेरस पर लोहा करें दान
धनतेरस के शुभ अवसर पर लोहे से बनी वस्तु का दान करना शुभ माना गया है, कहते हैं इससे दुर्भाग्य जीवन में कभी नहीं फटकता है, और शुभ फलदाई होता है। ऐसा करने से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं। वैसे भी लोहे को शनिदेव का धातु माना गया है।



source https://www.patrika.com/astrology-and-spirituality/donate-these-things-on-the-day-of-dhanteras-complete-the-work-6516724/

Comments