Diwali 2020: दिवाली की सजावट के लिए करें इन चीजों का उपयोग, चमकदार घर दिखने के साथ दूर होगी नाकारात्मकता

नई दिल्ली। इस साल दिवाली का त्योहार 14 नवंबर यानि की शनिवार को पड़ने वाली है। सभी लोग अपने घरों को सुंदर और साफ बनाने के लिए हर तरह से तैयारियां कर रहे है। घर की साफ सफाई से लेकर उसमें चमकदार लाने के लिए रंग बिरगी लाइटों से लेकर रंगोली के साथ घर को सजा रहे है। लेकिन क्या आप जानते है कि साफ सफाई के साथ घर की सजावट करने के लिए ऐसी चीजों का उपयोग किया जाए जिससे घर तो सुंदर दिखेगा ही, साथ ही घर का नाकारात्मक ऊर्जा भी दूर होगी। यदि आप भी चाहते हैं कि आपका मुख्य द्वार से लेकर बाकि चीजें एकदम परफेक्ट हो। तो ऐसे में चलिए जानते हैं कि कैसे करें दीपावली में अपने घर की सजावट

दरवाजे
दीपावली के दिन घर की सजावट करने के लिए घर के मुख्य द्वार को सजाना काफी आवश्क होता है क्योकि आपके घर पर मां लक्ष्मी के कदम मुख्य द्वार से ही रखे जाते है। इसलिए मुख्य द्वार को खूबसूरत के बनाने के साथ साकारात्मक उर्जा बनाए रखने के लिए वंदनवार या तोरण लगाना काफी जरूरी है। या फिर अशोक के वृक्ष की पत्ते वदंनवार के रूप में लगाएं। इससे घर में शातिं आती है। इसके साथ ही बाजार में मिलने वाले शुभ-लाभ,देवी लक्ष्मी के पद चिन्ह,श्रीफल,स्वस्तिक आदि लगाकर अपने दरवाजे की रौनक बढ़ा सकते हैं।

खिड़की
घर पर खिड़कियां बनी हुई है उन पर टिमाटिमाते छोटे बल्ब की झालर लगा सकते हैं। इसके साथ ही खिड़की पर आर्टिफिशियल फूल या फिर माला की मदद से सजावट कर सकते हैं।

घर के कोने-कोने की सफाई
दिवाली पर घर के कोने-कोने की सफाई करना जरूरी होता है। ऐसे में आप चाहें तो नाइन ओ क्लॉक,अडेनिय या फिर किसी भी छोटे या बड़े पौधो को अपने घर के कोने में फिट कर सकते हो। ऐसा करने से आपके घर के कोनो की सुंदरता भी बढ़ेगी और साथ ही घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह भी होगा। अगर घर में गमले रखे हैं तो आप उनपर भी सजावट कर सकते हैं.

लिविंग रूम
घर का सबसे मुख्य रूम लीविंग रूम होता है जहां लोग याकर बैठते है। इस रूम को विशेष तौर रक तैयार किया जाता है। इस रूम को सुंधर बनाने के लिए आप लिक्विड रंगोली बनाकर आर्टिफिशियल फूलों की मदद से सजाएं। इसके साथ ही छोटी कैंडल से इस रूम को सजा सकते है।



source https://www.patrika.com/astrology-and-spirituality/use-these-things-for-the-decoration-of-diwali-6510840/

Comments