Rashi Parivartan of surya: धनु सहित इन राशि वालों का बदलने वाला है समय, जानें 15 दिन बाद होने जा रहे सूर्य के परिवर्तन का 12 राशियों पर असर

ग्रहों की राशि परिवर्तन की श्रृंख्ला में अब सूर्य का राशि परिवर्तन होने जा रहा है। ज्याेतिष में सूर्य का यह परिवर्तन काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है, सूर्य अभी वृश्चिक राशि में गोचर कर रहे हैं, नवंबर में यह अपनी नीच राशि तुला से निकलकर अपनी मित्र राशि वृश्चिक में आए थे, वहीं अब सूर्य वृश्चिक राशि में 15 दिसंबर तक रहने के बाद सूर्य 15 दिसंबर को धनु राशि में आ रहे हैं।

सूर्य का धनु राशि में गोचर 15 दिसम्बर, मंगलवार को रात्रि 9 बज कर 19 मिनट (21:19 बजे) पर होगा, जब सूर्य देव अपने परम मित्र बृहस्पति के स्वामित्व वाली धनु राशि में प्रवेश करेंगे। यह एक अग्नि तत्व की राशि है और सूर्य भी अग्नि तत्व प्रधान ग्रह है। इस प्रकार एक अग्नि तत्त्व प्रधान सूर्य ग्रह का प्रवेश अग्नि तत्व प्रधान धनु राशि में होगा, जिससे जीवन में खुशहाली और तरक्की आएगी।

ज्योतिष शास्त्र में सूर्य को आत्मा का कारक माने जाने के साथ ही सूर्य जीवन में उच्च पद, मान सम्मान, पुरस्कार और लोकप्रियता के भी कारक माने गए हैं। सूर्य को पिता माना गया है। ऐसे में माना जाता है कि सूर्य जब शुभ होते हैं तो पिता का पूर्ण सहयोग प्राप्त होता है। साथ ही सूर्य प्रधान व्यक्ति की वाणी ओजपूर्ण और व्यक्तित्व आकर्षक होता है, ऐसे लोग मान सम्मान के साथ किसी प्रकार का कोई समझौता करना पसंद नहीं करते हैं।

MUST READ: 2021 का वार्षिक राशिफल- जानें इस नए नए वर्ष में क्या कहती है आपकी राशि

 

https://www.patrika.com/religion-and-spirituality/year-2021-horoscope-know-your-time-is-good-or-bad-6532427/

बन रहा इस राशि वालों के लिए राजयोेग
धनु राशि वालों के लिए सूर्य का यह गोचर विशेष मायने रखता है। सूर्य का गोचर धनु के राशि के जातकों की जन्म कुंडली में प्रथम भाव में होने जा रहा है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सूर्य धनु राशि में नवम भाव के स्वामी हैं। ऐसे में धनु राशि में सूर्य का गोचर प्रथम में राजयोेग का कारण बनते दिख रहे हैं। इसका अर्थ ये है सूर्य देव आपको लाभ देने जा रहे हैं, वहीं जन्म कुंडली में अन्य ग्रहों की स्थिति यदि शुभ है तो इस गोचर काल में आप उच्च पद या प्रामोशन आदि की प्राप्ति कर सकते हैं।

इसके अलावा धनु राशि में सूर्य का गोचर मान सम्मान में वृद्धि का कारक भी बन रहा है। इस दौरान धनु राशि वालों को हर स्थान पर सम्मान प्राप्त होगा, लोकप्रियता में भी वृद्धि होगी। लोग आपकी बातों को गंभीरता से सुनेंगे, साथ ही इस दौरान जॉब, करियर और व्यापार में भी अच्छे लाभ देखने को मिलेंगे। ध्यान रखें इस दौरान घमंड और वाणी को खराब न करें, नहीं तो हानि भी उठानी पड़ सकती है।

surya rashi parivartan Positive and Negative Affects on your zodiac signs

जानें 12 राशियों पर इस परिवर्तन का प्रभाव: surya rashi parivartan Impact on your zodiac signs

1. मेष राशि :

इस भाव में सूर्य देव आपको मिश्रित परिणाम देंगे। आपके पिताजी का स्वास्थ्य पीड़ित हो सकता है और वे बीमार पड़ सकते हैं, इसलिए उनके स्वास्थ्य का ध्यान रखना परम आवश्यक होगा। इसके अतिरिक्त आप के मान सम्मान में बढ़ोतरी होगी। आपको राजयोग के समान परिणाम मिलेंगे और आपके करियर में भी उन्नति दायक समय रहेगा।

2. वृषभ राशि :

इस भाव में सूर्य का गोचर अनुकूल परिणाम देने वाला नहीं माना गया है। ऐसी स्थिति में आपको थोड़ा सावधान रहना चाहिए क्योंकि आपके सुखों में कमी आएगी और आमदनी में गिरावट होने का अंदेशा रहेगा। आपका स्वास्थ्य भी पीड़ित हो सकता है और आपको कार्यों में व्यवधान के कारण मानसिक रूप से तनाव बना रहेगा।

3. मिथुन राशि :

आपको इस समय काल में मिले-जुले परिणाम प्राप्त होंगे। यदि आप कोई व्यापार करते हैं तो आपको अधिक प्रयास करने पड़ेंगे, जिससे आपको उचित लाभ होगा। व्यापार के मामले में आपको जबरदस्त लाभ होगा और आपका व्यापार चारों दिशाओं में फैलेगा और उसकी बढ़ोतरी होगी। इसके विपरीत आपके दांपत्य जीवन के दृष्टिकोण से यह गोचर अधिक अनुकूल नहीं रहेगा और आप तथा आपके जीवनसाथी के मध्य तनाव बढ़ेगा, जिससे रिश्ते में कड़वाहट घुल सकती है।

4. कर्क राशि :
सूर्य का गोचर अच्छा परिणाम देने वाला माना गया है, इसलिए इस गोचर के प्रभाव से आपकी नौकरी में अच्छे परिणाम मिलने शुरू हो जाएंगे। आपकी मेहनत आपके पक्ष में परिणाम प्रदान करेगी और आपको आपकी मेहनत का फल मिलेगा। आप अपने विरोधियों पर हावी रहेंगे और वे चाह कर भी आपका बाल भी बांका नहीं कर पाएंगे। इस अवधि में आप किसी कोर्ट या कचहरी के मामले में सफलता अर्जित करेंगे और उससे भी आपको लाभ होगा। सरकारी क्षेत्र या शासन प्रशासन से आपको उत्तम लाभ के योग बनेंगे।

5. सिंह राशि
इस गोचर की अवधि में आपकी राशि से पंचम भाव में प्रवेश करेंगे, जहां सूर्य का गोचर अधिक शुभ नहीं माना जाता। ऐसी स्थिति में आपको इस गोचर के मिश्रित परिणाम प्राप्त होंगे। सूर्य का गोचर आपकी इनकम में बढ़ोतरी का रास्ता दिखाएगा और समाज के रसूखदार लोगों से आप के संपर्क जुड़वाएगा। यही संपर्क भविष्य में आपके लिए लाभदायक साबित होंगे लेकिन इस गोचर के प्रभाव से आपकी संतान को कोई कष्ट हो सकता है, जिसकी वजह से आपकी चिंताएं बढ़ेंगी।

6. कन्या राशि :
सूर्य का यह गोचर आपके लिए अधिक अनुकूल नहीं कहा जा सकता और इसके कारण आपके पारिवारिक जीवन में तनाव देखने को मिलेगा। परिवार में किसी बुजुर्ग का स्वास्थ्य खराब हो सकता है, जिसकी वजह से आपको अत्यधिक धन खर्च करना पड़ेगा और मानसिक तनाव भी होगा। आपकी माताजी का स्वास्थ्य भी पीड़ित हो सकता है और परिवार में आपका हस्तक्षेप हद से ज्यादा होने के कारण लोगों को आपसे असुविधा हो सकती है।

7. तुला राशि :
सूर्य का गोचर आपके लिए शुभ समाचार लेकर आएगा और आपको जीवन में सफलता प्रदान करेगा। आप जिस क्षेत्र में भी कार्यरत हैं, उसमें आपका मान सम्मान भी बढ़ेगा और आपके काम की प्रशंसा भी होगी। आपको सरकारी तंत्र का पूरा सहयोग मिलेगा और सरकारी क्षेत्र से लाभ होने के भी प्रबल योग बनेंगे। इस अवधि में की गई यात्राएं आपके बहुत काम आएँगी और आपको समाज में स्थापित करने में सहायक बनेंगी। आप सामाजिक सरोकार के कार्यों में भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लेंगे, जिससे आपकी छवि मजबूत होगी।

8. वृश्चिक राशि :
इस गोचर काल में सूर्य आपके दूसरे भाव में प्रवेश करेगा। आमतौर पर दूसरे भाव में सूर्य का गोचर अधिक अनुकूल नहीं माना जाता लेकिन आपके लिए यह धन वृद्धि का समय हो सकता है। आपने जो मेहनत अभी तक की थी, उसका उचित फल आपको मिलेगा और आप धन संचित करने में सफल होंगे। परिवार में आपका कद बढ़ेगा। यहां तक कि परिवार के लोग आपको हर बात में अहमियत देंगे और आपकी सलाह से काम होंगे लेकिन इसके बावजूद भी परिवार में अशांति रह सकती है और इससे आपको तनाव महसूस होगा।

MUST READ : चंद दिनों बाद लगने वाले हैं साल 2020 के आखिरी चंद्र और सूर्य ग्रहण, जानिए आप पर इसका असर

https://www.patrika.com/religion-and-spirituality/timing-and-date-of-last-lunar-and-solar-eclipse-in-2020-6530997/

https://ift.tt/2VboWaR. धनु राशि :
इस गोचर काल में सूर्य आप के प्रथम भाव में आकर राज योग का निर्माण करेगा। यदि आपकी कुंडली में दशा अनुकूल है तो सूर्य ग्रह का यह गोचर आपको जीवन में अत्यधिक उन्नति दे सकता है और समाज में प्रतिष्ठित भी बनाएगा। आपकी लोकप्रियता में इजाफा होगा तथा आपको सरकारी क्षेत्र से तथा समाज के अन्य क्षेत्रों से भी अच्छा लाभ और मान-सम्मान की प्राप्ति होगी।

10. मकर राशि :
सूर्य का गोचर अधिक अनुकूल फल देने वाला नहीं माना गया है। ऐसी स्थिति में आपको इस गोचर के मिश्रित परिणाम प्राप्त होंगे। सूर्य का यह गोचर आपके स्वास्थ्य के लिए कमजोर साबित होगा और आपके स्वास्थ्य में कमियां रहेंगी तथा स्वास्थ्य संबंधित परेशानियां आपको कष्ट देंगी। इस गोचर के परिणाम स्वरूप आपकी आमदनी में भी गिरावट देखने को मिल सकती है, जिसका असर आपकी आर्थिक स्थिति पर पड़ेगा और वह कमजोर हो सकती है लेकिन एक अच्छी बात यह है कि यह आपको विपरीत परिस्थितियों में आगे बढ़ने का हौसला देगा और आप किसी भी चुनौती से घबराएंगे नहीं।

11. कुंभ राशि :
सूर्य का यह गोचर आपको अच्छे परिणाम देने में सक्षम होगा। आप यदि व्यापार करते हैं तो आपके व्यापार में वृद्धि होगी और आपकी आमदनी में जबरदस्त बढ़ोतरी होगी। दिन दूनी रात चौगुनी उन्नति वाली कहावत चरितार्थ होगी और आपकी सामाजिक और आर्थिक दोनों ही रूपों में समृद्धि होगी। समाज के वरिष्ठ और गणमान्य लोगों से आपके संपर्क स्थापित होंगे, जो भविष्य में आपके लिए कारगर साबित होंगे। इस गोचर के प्रभाव से आपके प्रेम जीवन में कुछ समस्याएं अवश्य आ सकती हैं क्योंकि आप और आपके प्रियतम के मध्य व्यक्तिगत सोच का अंतर हो सकता है।

12. मीन राशि :
धनु राशि में गोचर के दौरान सूर्य आपकी राशि से दशम भाव में प्रवेश करेंगे। दशम भाव में सूर्य को दिगबल प्राप्त होता है और यह आपके कर्म अर्थात व्यवसाय का भाव भी है, इसलिए आपके लिए सूर्य का यह गोचर अति महत्वपूर्ण होगा और आपको इसके अनेक अच्छे परिणाम भी प्राप्त होंगे। सूर्य देव की कृपा से आपके प्रोफेशन में आपको उन्नति मिलेगी। आपकी पदोन्नति होगी और आपका कार्यभार भी बढ़ेगा, जिससे आपके अधिकारों की वृद्धि होगी और आप पावरफुल बनेंगे। यह गोचर आपके निजी जीवन को भी अच्छे परिणामों से भर देगा और परिवार के लोगों का सहयोग भी आपको प्राप्त होगा। समाज में आपकी स्थिति मजबूत होगी और लोग आपकी प्रशंसा करेंगे।



source https://www.patrika.com/religion-and-spirituality/surya-rashi-parivartan-effect-starts-from-15-dec-2020-6543060/

Comments